बागेश्वर, [जेएनएन]: आज सुबह एक बोलेरो वाहन कपकोट से खरकिया जा रहा था। इसी दौरान रास्‍ते में बारिश के कारण अचानक सड़क धंस गई। वाहन खाई की ओर जाने लगा, तभी चमत्‍कार हुआ। वाहन पत्‍थर से अटक गया और आधा हवा में लटक गया। इससे वाहन में सवार छह लोगों की सांसें अटक गईं। किसी तरह सभी को सुरक्षित निकाला गया।

जिले का कपकोट क्षेत्र आपदा की दृष्टि से बेहद संवेदनशील है। यहां कपकोट कर कर्मी मोटर मार्ग लंबे समय से बंद है। यहां के क्षेत्रवासियों ने मोटर मार्ग को सुचारू करने के लिए जिलाधिकारी कार्यालय में भी प्रदर्शन किया था। जगह जगह मार्ग पर मलबा आया है, जिससे यात्रियों को हमेशा खतरा रहता है। 

ऐसा ही कुछ देखने को मिला। शनिवार को खरकिया नामक स्थान के पास कपूर से कर्मी को छह यात्रियों को लेकर एक बोलेरो वाहन गुजर रही था। इसी दौरान खरकिया के पास पहुंचने पर अचानक सड़क धंस गई। जिससे वाहन खाई की ओर जाने लगी, लेकिन तभी चमत्‍कार हुआ और वाहन पत्‍थर पर अटक गया। वाहन में बैठे छह यात्रियों को जैसे तैसे सुरक्षित निकाला गया। 

इसके बाद जेसीबी बुलाकर गाड़ी को निकाला गया। उप जिलाधिकारी कपकोट रविंद्र बिष्ट ने बताया कि बरसात के कारण सड़कों पर बोल्डर गिरना, मलबा आना आम बात है। इसके लिए लोगों से सतर्क रहने की अपील की जा रही है। वही बंद सड़क मार्गों को प्राथमिकता से खोला जा रहा है। कपकोट ब्लॉक में अभी चार मोटर मार्ग बंद है। प्रशासन राहत बचाव कार्य चला रहा है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में मुसीबत बन बरस रहे हैं बादल, जनजीवन अस्‍त-व्‍यस्‍त

यह भी पढ़ें: उत्‍तराखंड में मूसलाधार बारिश से नदी-नालों में उफान, कई इलाकों में बाढ़ का खतरा

 

By Sunil Negi