जागरण संवाददाता, बागेश्वर : बीएड, टीईटी प्रथम प्रशिक्षित महासंघ ने प्राथमिक शिक्षक भर्ती शीघ्र कराने की मांग शुरू कर दी है। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षित बेरोजगारी का दंश झेल रहे हैं। यदि सरकार ने उन्हें राहत नहीं दी तो सड़कों पर उतरकर आंदोलन का बिगुल फूंकेंगे।

शुक्रवार को प्रशिक्षित महासंघ ने तीन सूत्रीय मांगों को लेकर मुख्य शिक्षाधिकारी नरेश शर्मा से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि प्राथमिक सहायक अध्यापकों के चार हजार रिक्त पद चल रहे हैं। लेकिन अब तक रिक्त पदों को भरा नहीं गया है। जिसके चलते प्रशिक्षित शिक्षक बेरोजगारी का दंश झेल रहे हैं। उन्होंने कहा कि नौ नंवबर 2020 को महासंघ ने शिक्षक भर्ती को लेकर ज्ञापन सौंपा था। लेकिन अब तक नियुक्ति चयन प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकी है। एनआइओएस, डीएलएड के प्रकरण के कारण भर्ती प्रक्रिया बाधित हुई है। उन्होंने कहा कि अदालत में मामला चल रहा है। जिस पर सरकार की तरफ से ठोस पैरवी की जरूरत है। बेरोजगारों ने कहा कि यदि उनकी मांगें नहीं मानी गई तो आने वाले समय में पूरे उत्तराखंड में लाखों बीएड बेरोजगार, टीईटी प्रथम प्रशिक्षित सड़कों पर उतर कर अपना विरोध करेंगे। इस दौरान महेश पांडे, नवीन पांडे, नरेंद्र मेहता, गणेश गोस्वमी, रमेश लाल आदि मौजूद थे। अल्मोड़ा में भी बेरोजगारों ने भरी हुंकार

संस, अल्मोड़ा : प्राथमिक शिक्षक भर्ती की मांग को लेकर डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजूकेशन(डीएलएड) प्रशिक्षित बेरोजगारों ने शुक्रवार को शिक्षा विभाग के जिला कार्यालय पहुंचकर मुख्य शिक्षा अधिकारी को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया है भर्ती प्रक्रिया के लिए कार्रवाई तेज की जाए। जिससे वर्षों से बेरोजगारी की समस्या झेल रहे बेरोजगारों को राहत मिल सके।

ज्ञापन में कहा गया है कि राज्य के सरकारी प्राथमिक विद्यालयों में चार वर्षों बाद नवंबर 2020 में जनपद वार आवेदन मांगे गए। तय समय पर भर्ती संपन्न करवाने के लिए विभाग द्वारा कलेंडर भी जारी किया। जनपद बागेश्वर, पिथौरागढ़, चमोली व उधम सिंह नगर में डाटा एंट्री का काम पूर्ण हो चुका है, जबकि अल्मोड़ा में डाटा इंट्री का काम बेहद धीमी गति से चल रहा है। विगत डेढ़ साल से प्राइवेट स्कूलों के बच्चे लगातार ऑनलाइन माध्यम से पढ़ाई कर रहे हैं, वहीं सरकारी प्राथमिक स्कूलों के बच्चों का भविष्य अधर में लटका है। प्रशिक्षित बेरोजगार रोजाना मुख्य शिक्षा अधिकारी कार्यालय और निदेशालय देहरादून के चक्कर काटने को मजबूर हैं।

ज्ञापन सौंपने वालों में डायट डीएलएड संघ के प्रदेश अध्यक्ष पवन मुस्यूनी, प्रदेश सचिव केवल प्रसाद, प्रदेश कोषाध्यक्ष प्रियंका वर्मा,दिव्या तिवारी,आरती लटवाल, कविता गैड़ा,ममता रावत,निर्मला दानू,गोकुल आर्या, विजय कुमार,सौरभ कांडपाल मौजूद रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप