संवाद सहयोगी ,बाजपुर : एनएच-74 मुआवजा घोटाले पर अव किसानों पर कार्रवाई शुरु हो गई है जिसके चलते स्थानीय पुलिस द्वारा तीन किसानों को गिरफ्तार कर एसआईटी के सुपुर्द कर दिया है। इन पर आरोप है कि बेक डेट में भूमि का वर्ग परिवर्तित करा अधिक मुआवजा लिया गया।

तीन वर्षो से जारी एनएच 74 मुबाअजा घोटाले में लगभग सात माह की चुप्पी के बाद प्रशासन फिर हरकत में आ गया है जिसके चलते अव एसआईटी सीधे दविश न देकर स्थानीय पुलिस की मदद से किसानों की गिरफ्तारी में जुट गई है । बुधवार की सायं पुलिस ने करीव दो वर्ष से वाछित चल रहे पिता पुत्र सहित तीन को गिरफ्तार किया गया है । मामले की जानकारी देते हुए कोतवाल नंदाबल्लभ भट्ट ने बताया कि घोटाले में विवेचना कर रहे अपर पुलिस अधीक्षक स्वतंत्र कुमार द्वारा 55 सीआरपीसी के तहत गिरफ्तारी अधिपत्र जारी किया गया था जिसमें कार्रवाई करते हुए सुबेग सिंह पुत्र कश्मीर सिंह निवासी मुड़यिा मनी, रामदिया चौधरी पुत्र स्वयंचंद्र चौधरी व कुलदीप चौधरी पुत्र रामदिया चौधरी को दोपहर बाद उनके घरों पर दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया गया जिन्हें एसआईटी टीम के सुपुर्द कर दिया गया है। एसआईटी इन तीनों से गहनता पूर्वक पूछताछ कर रही है। टीम में कोतवाल एनबी भट्ट, एसएसआई महेश कांडपाल, हेड कांस्टेबल शंकर आर्या, कांस्टेबल मनोज, अमित कुमार व पूरन आदि शामिल थे। वही किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष कर्म सिहं पड्डा ने कहा है कि सरकार किसानों के प्रति उदार रवैया अपनाए क्यू के किसानों को तत्कालीन अधिकारियों द्वारा गुमराह किया गया था और जितना मुआबजा दिया गया अथवा दिया जा रहा है रोड साईड की जमीनों की उतनी कीमत वैसे ही बजार भाव से है ऐसे में किसानों का उत्पीड़न नही होना चाहिए।

इन्सैट

जल्द होगी और गिरफ्तारियां

बाजपुर: तीन किसानो की गिरफ्तारी के बाद चर्चा है कि जनपद में अनेक और गिरफ्तारिया जल्द संभव है क्यू के पंचायत चुनाव के चलते प्रशासन ने मामले में ढील डाल रखी थी आज चुनाव संपन्न होते ही गिरफ्तारियां शुरू हो गई है। केलाखेडा बाजपुर थाना क्षेत्र में लगभग आधा दर्जन लोग और गिरफ्तारी की जद में है ।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस