जागरण संवाददाता, बागेश्वर : भारत सरकार की बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के तहत बेटियों की समृद्धि के लिए वर्ष 2015 में सुकन्या समृद्धि योजना नाम से योजना लाई गई थी। जिसके तहत एक व्यक्ति दो बेटियों के नाम एक हजार रुपये से सुकन्या खाता खोल सकते थे, लेकिन अब योजना के तहत सिर्फ 250 रुपये से किसी भी डाकघर में खाता खोला जा सकता है। जिससे बेटियों को इसका सीधा लाभ मिलेगा और उसकी पढ़ाई, शादी आदि के लिए एक धनराशि भी एकत्र हो जाएगी। यह व्यवस्था इस नवंबर से सभी डाकखानों में लागू कर दी गई है।

सुकन्या समृद्धि योजना में बेटी के लिए खाता खोलना आसान हो गया है। केंद्र सरकार ने अब इस योजना में सालाना न्यूनतम जमा राशि 1,000 रुपये से घटाकर 250 रुपये कर दी है। माना जा रहा है कि सरकार के इस फैसले से इस योजना का लाभ उठाने वाले लोगों की संख्या बढ़ेगी। केंद्र सरकार ने 2015 में इस योजना की शुरुआत की थी।

डाक अधीक्षक कंचन सिंह चौहान ने बताया कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के तहत एक व्यक्ति अधिकतम दो बालिकाओं के नाम पर ढाई सौ रुपये में किसी भी डाकखाने में खाता खोल सकता है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप