जासं, बागेश्वर: जिले में 13 ग्राम पंचायतों में प्रधान पद पर उम्मीदवार नहीं मिलने से चुनाव नहीं हुए। बागेश्वर विकास खंड की खुनौली, नाघरसाहू, सुंदिल और रावतसेरा की सीट अनुसूचित जाति महिला के लिए आरक्षित थी। लेकिन एक भी नामांकन नहीं हुआ। कपकोट की पपोली सीट भी एससी महिला के लिए आरक्षित थी। यहां भी कोई उम्मीदवार नहीं होने से चुनाव नहीं हो सका। गरुड़ ब्लॉक में सबसे अधिक आठ गांवों में प्रधान नहीं चुने गए। यहां की फल्यांटी, जिजोली, बिनखोली, परकोटी और रतमटिया सीट अनुसूचित जाति के आरक्षित थी, जबकि दर्शानी, कटारमल और वच्यूला सीट पर अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित की गई थी। इन सीटों पर भी योग्य प्रत्याशी नहीं मिला। जिसके चलते ग्राम प्रधान पद पर चुनाव नहीं हो सके। यहां अब 6 महीने बाद चुनाव होंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप