जागरण संवाददाता, बागेश्वर: असम राइफल्स में तैनात एक जवान की हार्ट अटैक से मौत हो गई और उनका पाíथव शरीर गुरुवार को उनके पैतृक गांव पहुंचा। पूरा गांव शोक में डूब गया और सरयू संगम पर उन्हें नम आंखों ने अंतिम विदाई दी। प्रशासन की आरे से पुष्पचक्र अíपत किया गया और सैन्य सम्मान के साथ उनकी अंत्येष्टि हुई। काफलीगैर तहसील के सिमतोली गांव निवासी सूबेदार जगत सिंह असम राइफल्स में तैनात थे। हृदय गति रूकने से उनका निधन हो गया था। उनका पार्थिव शरीर उनके गांव पहुंचा और सरयू नदी के तट पर बहादुरबड़ शिवालय के पास सैन्य सम्मान के साथ उनकी अंत्येष्टि की गई। प्रशासन की ओर से नायब तहसीलदार भूपाल मटियानी ने उनके पाíथव शरीर पर पुष्पचक्र अíपत किया। कौसानी सिग्नल कोर के जवानों ने शोक में शस्त्र उल्टे किए। सिमतोली के निवर्तमान प्रधान आनंद सिंह मेहता ने बताया कि उनका छोटा भाई जगत सिंह (58) पुत्र केशर सिंह आसाम राइफल्स में नागालैंड के कोहिमा में सूबेदार के पद पर तैनात थे। मंगलवार को ड्यूटी के दौरान उनके सीने में दर्द हुआ। तबीयत बिगड़ते देख उनके अन्य साथी उन्हें अस्पताल ले गए, लेकिन उपचार के दौरान उनका निधन हो गया। बुधवार को उनके अन्य साथी उनके शव को दिल्ली लाए। गुरुवार की सुबह सेना के वाहन में उनका शव गांव पहुंचा। परिजनों तथा ग्रामीणों के अंतिम दर्शन के बाद शवयात्रा शुरू हुई। चिता को मुखाग्नि उनके पुत्र सुभाष और सुनील ने दी। इस मौके पर सूबेदार पूरन चंद्र, सूबेदार महेश चंद्र, पटवारी तारा दत्त पाठक आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप