जागरण संवाददाता, बागेश्वर: भले ही अटल आयुष्मान भारत योजना दो माह पहले लागू हो गई हो लेकिन अभी तक केवल 13 हजार परिवारों को ही इसका लाभ मिल पा रहा है। अभी भी 63 हजार से अधिक पात्र योजना का लाभ से वंचित हैं। हाल यह है कि शासन-प्रशासन की सुस्ती का खामियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ रहा हैं।

सरकार भले ही लोगों को निश्शुल्क स्वास्थ्य सुविधाएं देने का आश्वासन दे रही हो, लेकिन सरकारी कार्यप्रणाली के कारण अभी भी हजारों लोग सरकारी योजनाओं से महरूम हैं। बीते अक्टूबर माह में केंद्र सरकार की ओर से धूमधाम से अटल आयुष्मान भारत योजना शुरू हुई। योजना लागू करने के बाद दावा किया गया था कि गरीब परिवारों को निश्शुल्क इलाज मिलेगा। इसके तहत पात्र परिवारों का पंजीकरण शुरू किया गया। अभी तक 13 हजार 191 लोगों को इस योजना के तहत पंजीकृत किया गया है। योजना के तहत इन परिवार का सभी सरकारी अस्पतालों में निशुल्क इलाज की सुविधा दी जाएगी। लेकिन अभी भी 63 हजार पात्र योजना का लाभ लेने से वंचित हैं। स्वास्थ्य विभाग परिवार सर्वे कर इन पात्र परिवारों का चयन कर रहा है। विभाग के अनुसार सभी पात्रों का चयन कर लिया गया है। अभी कंप्यूटर में डाटा अपलोड किया जा रहा है। यह होते ही इन परिवारों को भी इस योजना का लाभ मिलने लगेगा। योजना के तहत जिले के सभी लोग इससे लाभांवित होंगे।

----------

== वर्जन

योजना के तहत करीब 76 हजार परिवारों को इसका लाभ मिलेगा। परिवार सर्वे का कार्य पूरा कर लिया गया है। डाटा अपलोड होते ही सभी पात्रों को इसका लाभ मिलने लग जाएगा।

-डॉ. जेसी मंडल, मुख्य चिकित्साधिकारी, बागेश्वर

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस