जागरण संवाददाता, बागेश्वर: 132 केवी अल्मोड़ा ग्रिड फेल होने से शहर में करीब एक घंटा अंधेरा रहा। चौरासी मे विद्युत पोल गिर गया और करीब दस घंटे बाद वहां आपूíत हो सकी। आए दिन फाल्ट आदि होने पर शहर के उपभोक्ताओं में आक्रोश है।

सोमवार की शाम करीब पांच से छह बजे के बीच 132 केवी अल्मोड़ा ग्रिड फेल हो गया। जिससे पूरे शहर में अंधेरा छा गया और रात करीब सात बजे बाद बिजली की सुचारू आपूíत हो सकी। जिससे उपभोक्ताओं में भारी आक्रोश है। उपभोक्ताओं का कहना है कि बिजली विभाग को वे हर माह बिलों का भुगतान करते हैं, सुबह-शाम बिजली की आपूíत सुचारू नहीं होने से उनके कई काम अटक जाते हैं। दिनभर काम करने के बाद वे शाम को घर पहुंचते हैं। टीवी और अन्य उपकरणों से काम लेते हैं, लेकिन बिजली एकाएक गुल हो जाती है। उधर, चौरासी में विद्युत पोल गिरने से आपूíत दस घंटे बाद बहाल हो सकी।

=======

ट्रांसफार्मर झाड़ियों से घिरा

चंडिका मार्ग पर लगा ट्रांसफार्मर विभाग के आंखों से ओझल है। हाईटेंशन लाइन में विद्युत तरंग भेज रहे इस ट्रांसफार्मर को जंगली घास ने पूरी तरह लपेट दिया है और कभी भी स्पाíकंग हो सकती है। जिससे आसपास के इलाके में नुकसान भी हो सकता है।

===========

पुराने पोल, लॉपिग आदि का काम निरंतर जारी है। ग्रिड फेल होने के कारण ही आपूíत चरमरा रही है और नगर को आपूíत सुचारु है।

-भास्कर पांडे, ईई, ऊर्जा निगम।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस