संवाद सहयोगी, रानीखेत : हिल पेट्रोल यूनिट (एचपीयू) की महिला सिपाही मिसाल बन गई। रोडवेज स्टेशन में दिल्ली जा रही बस में दो यात्रियों की जेब काट भाग रहे जेबकतरे को गश्ती दल की दो महिला सिपाहियों ने डेढ़ किमी दूर तक पीछा कर दबोच लिया। साथ ही यात्रियों से उड़ाए गए रुपये भी बरामद किए गए। शातिर आरोपित को स्थानीय लोगों ने धुन डाला। पुलिस कर्मियों ने बीचबचाव कर उसे चंगुल से छुड़ाया। उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

वाकया शनिवार की शाम का है। नगर के रोडवेज स्टेशन से दिल्ली जा रही बस यूए 07-2805 रवानगी की तैयारी में थी। इसी दौरान बस में सवार हुए शातिर युवक ने बुजुर्ग यात्री त्रिलोक सिंह निवासी मौना चौकुनी (ताड़ीखेत ब्लॉक) की जेब काट 2500 रुपये पार कर लिए। इसका आभास होने पर त्रिलोक सिंह ने जेबकतरे का हाथ पकड़ लिया। मगर वह झटक कर आगे बढ़ गया। फिर बड़ी ही सफाई से दूसरे यात्री कनल गांव बग्वालीपोखर (द्वाराहाट) निवासी बची राम की जेब से 800 रुपये उड़ा लिए। तभी बस में हो हल्ला मच गया। पकड़े जाने के डर से जेबकतरा गाड़ी से उतर नेशनल इंटर कॉलेज (एनआइसी) की ओर ढलान में भाग निकला। इसी दौरान गश्त पर निकली एचपीयू की महिला जवान पल्लवी चौधरी व दीपा आर्या ने अपना दोपहिया रोक जेब कतरे का पीछा किया। स्थानीय लोग भी दौड़े। तकरीबन डेढ़ किमी दूर लोअर माल रोड के पास पानी की टंकी के पीछे दुबके शातिर को दबोच लिया। पीछा कर रहे अन्य स्थानीय लोगों ने जेबकतरे को पीट डाला। महिला सिपाही बीचबचाव कर आरोपित को छुड़ा कोतवाली ले आई।

============

पूछताछ में पुलिस को घुमाने लगा शातिर

महिला पुलिस के हत्थे चढ़े शातिर आमिर खान पुत्र निवासी नियाजगंज राजपुरा अल्मोड़ा का रहने वाला है। उसने बताया कि वह गाड़ी चलाता है। पिछले दिनों रानीखेत निवासी सद्दे नामक व्यक्ति के वाहन से उसकी गाड़ी भिड़ गई थी। उसे 15 हजार रुपये देने के लिए आया था। उसने पूछताछ में पुलिस को घुमाने की भी कोशिश की और खुद को ऊंचा पुल हल्द्वानी निवासी बताने लगा।

===========

'दो यात्रियों की जेब काट पार किए गए 13800 रुपये बरामद कर लिए हैं। आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कड़ी पूछताछ की जा रही है। उसके गिरोह में और कौन कौन लिप्त है पता लगाया जा रहा।

-नारायण सिंह, कोतवाल'

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस