संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस के मौके पर आयोजित जिला स्तरीय निबंध प्रतियोगिता के विजेताओं को रविवार को एक कार्यक्रम में पुरस्कार वितरित किए गए। इस प्रतियोगिता में जिले भर के 121 स्कूलों के 1185 छात्र-छात्राओं ने भागीदारी की।

प्रतियोगिता बाल प्रहरी, बाल साहित्य संस्थान तथा भारत ज्ञान विज्ञान समिति के तत्वावधान में मैसर्स गोपाल डेयरी के सहयोग से आयोजित की गई। रतन सिंह सांगा एवं पनुली देवी सांगा स्मृति जिला स्तरीय इस निबंध प्रतियोगिता के विभिन्न वर्गो में उत्कृष्ट प्रतिभागियों प्राची किरौला, अंजलि फत्र्याल, स्नेहा भट्ट, प्रियंका, भूमिका ठाकुर, गौरव कांडपाल, राजकमल प्रसाद, हितेश बिष्ट, भारत जोशी, पवन कुमार को प्रशस्ति पत्र के साथ ही प्रतीक चिन्ह तथा बाल साहित्य प्रदान किया गया। वहीं खुशी जोशी, भाष्कर कांडपाल, प्रथम जोशी, ज्योति कांडपाल तथा अदनान को जनपद स्तर पर सांत्वना पुरस्कार प्रदान किया गया। इससे पूर्व जिला स्तरीय निबंध प्रतियोगिता की रिपोर्ट बाल प्रहरी के उदय किरौला ने प्रस्तुत की। उन्होंने बताया कि संस्था स्तर पर प्रथम, द्वितीय तथा तृतीय स्थान पर रहे 412 बच्चों को भी प्रमाण पत्र व बाल साहित्य दिया गया।

इस मौके पर शिक्षिका आशा भट्ट की बाल साहित्य की पुस्तक ऐपण, नीरज पंत की ओर से संपादित बाल मन तथा प्रमोद तिवारी द्वारा संपादित हस्तलिखित पत्रिका बाल दर्पण का लोकार्पण कार्यक्रम में मौजूद अतिथियों ने किया। मुख्य अतिथि हवालबाग के प्रभारी खंड शिक्षा अधिकारी सुरेश पाठक ने बच्चों की लेखन प्रतिभा को विकसित किए जाने के लिए प्रतियोगिता आयोजकों की सराहना की। दून साइंस फोरम के विजय भट्ट ने बच्चों में वैज्ञानिक सोच विकसित करने पर बल दिया। इस मौके पर पूर्व उप शिक्षा निदेशक विपिन जोशी, डॉ. डीडी तिवारी, अनिल पुनेठा, मदल लाल साह, प्रमोद तिवारी, कमलेश खंतवाल, विनोद राठौर, डॉ. महेंद्र मिराल, युगल मठपाल, जगदीश पाठक, मोती प्रसाद साहू, इंद्रा तिवारी, रेशमा परवीन, भगवान सिंह बगड्वाल, ज्योति पंत, पुनीता जोशी समेत अनेक अभिभावक मौजूद थे।

Posted By: Jagran