संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : उत्तराखंड जल संस्थान की शाखा इकाई अल्मोड़ा का संविदा श्रमिक संघ मांगों को लेकर मुखर हो चला है। कहा है कि यदि 25 फरवरी तक समस्याओं का समाधान नहीं किया गया तो संघ 26 फरवरी से धरना-प्रदर्शन शुरू कर देगा। कहा है कि संविदा श्रमिकों के हितों की अनदेखी किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

संघ का कहना है कि धौलादेवी ब्लॉक में कार्यरत श्रमिकों को पिछले दो माह से वेतन का भुगतान नहीं किया गया है। जिससे श्रमिकों को आर्थिक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वेतन नहीं मिलने से किराए का कमरा लेकर सेवा दे रहे श्रमिकों का हाल तो और भी बुरा हो चला है। वहीं हवालबाग ब्लॉक में कार्यरत श्रमिक देवेंद्र प्रसाद जोशी का बिना कारण वश विगत 4 माह से वेतन रोका गया है। वहीं कुछ श्रमिकों का अप्रैल 2018 से ईपीएफ भी नहीं काटा गया है। संघ का कहना है श्रमिकों का दिन प्रतिदिन शोषण किया जा रहा है। संघ के शाखा अध्यक्ष राजेंद्र सिंह ओर से जल संस्थान के अधिशासी अभियंता को दिए ज्ञापन में कहा गया है कि विभाग की ओर से श्रमिकों को सन 2017 से बढ़े हुए डीए का भुगतान भी नहीं किया गया है। जबकि इस संबंध में विभाग को कई मर्तबा अवगत कराया जा चुका है। ज्ञापन में साफ कहा गया है कि यदि 25 फरवरी तक समस्याओं का समाधान नहीं किया गया तो 26 फरवरी से श्रमिक जल संस्थान कार्यालय परिसर में धरना-प्रदर्शन को बाध्य होंगे। साथ ही यह संघर्ष तब तक जारी रहेगा जब तक श्रमिकों की समस्याओं का समाधान नहीं हो जाता है।

Posted By: Jagran