अल्मोड़ा, [जेएनएन]: विशेष सत्र न्यायाधीश ने गांजा तस्करी के मामले में दो अभियुक्तों को सात व 11 साल कैद की सजा सुनाई। दोनों को सजा के साथ-साथ अर्थदंड भी जमा करना होगा। 

अभियोजन के अनुसार छह फरवरी 2018 को भिकियासैंण चौकी प्रभारी हितेश चौंसली अपनी टीम के साथ चेकिंग अभियान पर थे। चौकी तिराहे के पास जैनल की ओर से आ रही इंडिगो कार को रोका गया तो उसमें सफेद और पीले रंग के तीन कट्टों में 40 किलो 970 ग्राम गांजा बरामद किया गया। पुलिस ने कार सवार मोहल्ला व थाना भगतपुर, मुरादाबाद (उप्र) निवासी श्रीपाल पुत्र शेर सिंह और ऊधमसिंह नगर जिले के काशीपुर निवासी शहादत अली पुत्र छोटे के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में कार्रवाई कर आरोप पत्र न्यायालय में पेश किया। इस मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से आठ गवाह पेश किए गए। 

लिखित और मौखिक साक्ष्यों पर विचारण के बाद विशेष सत्र न्यायाधीश डा. ज्ञानेंद्र कुमार शर्मा ने श्रीपाल को एनडीपीएस एक्ट के तहत 11 साल की सजा और एक लाख रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई। दूसरे अभियुक्त शहादत अली को सात साल का कारावास व दस हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई। 

यह भी पढ़ें: उड़ता पंजाब बन रहा उत्तराखंड, कुमाऊं में बढ़ रहा नशे का कारोबार

यह भी पढ़ें: बनबसा में चरस के साथ तीन लोग गिरफ्तार

यह भी पढ़ें: चंपावत पुलिस ने चरस के साथ एक तस्कर को दबोचा 

Posted By: Raksha Panthari