जागरण संवाददाता, अल्मोड़ा: मानसून सत्र के दौरान आपदा से हुए नुकसान की जानकारी कमिश्नर राजीव रौतेला ने वीडियो कान्फ्रे¨सग के माध्यम से अधिकारियों से ली। उन्होंने निर्देश दिए कि इस दौरान मानव हानि, पशु हानि, पुलों व सड़कों की क्षति, स्कूल भवनो को हुए नुकसान की जानकारी डीएम से ली।

कमिश्नर ने वीडियो कान्फ्रे¨सग के माध्यम से मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिये कि वे एक पत्र भेजकर मौजूदा स्थितियों से अवगत कराएंगे। ताकि शासन स्तर से इसके लिए धनराशि स्वीकृत करायी जा सके। इसके अलावा उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों में जहां पर भी पेयजल लाइनें क्षतिग्रस्त है उसके संबंध में ग्राम पंचायत अधिकारियों से रिर्पोट प्राप्त कर लें। ताकि वास्तविक स्थिति की जानकारी ली जा सके। एसडीएम को निर्देश दिए कि वह अपने क्षेत्र में जहां पर भी आपदा के कारण भवन क्षतिग्रस्त हुए हो उसकी सूचना रखें साथ ही सड़कों व पुलों, विद्यालयों, चिकित्सालयों व पेयजल लाइनों के बारे में भी जानकारी रखेंगे।

कमिश्नर ने वन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वन विभाग की जो संपत्ति क्षतिग्रस्त हुई है उनका रख-रखाव करने के साथ ही पैदल मार्गों की मरम्मत यथा समय कर लें। े निर्देश दिये कि जो भी धनराशि जिले में आपदा से आपदा निपटने के लिए स्वीकृत की गयी थी उसे यथा समय व्यय किया जाए। इस मौके पर एसएसपी पी रेणुका देवी, वनाधिकारी पंकज कुमार, एडीएम कैलाश ¨सह टोलिया, सीएमओ डॉ. विनीता साह, आपदा प्रबंधन अधिकारी राकेश जोशी सहित लोक निर्माण, ¨सचाई, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, पुलिस, टेलीफोन, परिवहन विभाग के उच्चाधिकारी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran