संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : नगर के जीआईसी मैदान में चल रहे जन्माष्टमी महोत्सव के मौके पर सोमवार की रात भी लोक कलाकारों के नाम रही। कलाकारों की प्रस्तुति पर जहां लोग जमकर थिरके, वहीं दर्शक देर रात तक दीर्घा में बैठकर कार्यक्रमों का आनंद लेते रहे।

कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष मोहन सिंह मेहरा व विशिष्ठ अतिथि पूर्व विधायक मनोज तिवारी ने संयुक्त रूप से किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व जिपं अध्यक्ष मेहरा ने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों की संस्कृति के संरक्षण के लिए प्रत्येक व्यक्ति को प्रयास करने चाहिए। तभी हम अपनी इस परंपरा को अपनी भावी पीढ़ी को समृद्ध रूप से सौंप सकेंगे। कार्यक्रम का शुभारंभ वंदना से किया गया। जिसके बाद लोक गायक गोविंद दिगारी ने रंगारंग कार्यक्रमों की शुरूआत फिल्म बार्डर के गीत संदेशे आते हैं से किया, जिसे दर्शकों ने खूब सराहा। इसके बाद लागा चुनरी में दाग, ऐसे लहरा के वो सामने आ गई, लाली हो हौंसिया लाली, डीडीहाट की जमुना छोरी, हाल क्या है दिलों का, मैं निकला गड्डी लेके समेत अनेक गीत प्रस्तुत किए। गढ़वाली लोक गायक गजेंद्र राणा ने वंदना के बाद पुष्पा छोरी पौड़ीखाल की, बबली तेरो मोबाइल, ओ भिना कसिकै जानू द्वाराहाटा, क्या दन लगदी तू समेत अनेक गीत प्रस्तुत किए। मां शारदा लोक कला मंच के निर्देशक गोपाल चम्याल और उनकी टीम ने भी कुमाऊंनी न्योली प्रस्तुत कर दर्शकों की जमकर वाहवाही लूटी।

इस मौके पर पीतांबर पांडे, पूरन रौतेला, कृष्णा बिष्ट, अख्तर हुसैन, रवि रौतेला, गुड्डू भोज, दीवान कनवाल, संतोष अग्रवाल, संजय टम्टा समेत अनेक गणमान्य लोग मौजूद रहे।

---------------

नेगी ने भी कलाकारों संग लगाए ठुमके

अल्मोड़ा : सरकारी सेवा से सेवानिवृत्त व आयोजक मंडल से जुड़े अमरनाथ नेगी वैसे तो पिछले कई दिनों से कार्यक्रम की व्यवस्थाओं में लगे हुए हैं। लेकिन उन्हें जब भी मौका मिल रहा है वह दर्शकों का उत्साह बढ़ाने से भी नहीं चूक रहे हैं। यही कारण है कि उम्र के इस पड़ाव में भी उनका जोश कार्यक्रम में दर्शकों के मन को हिलोरे मारने को मजबूर कर दे रहा है। कलाकारों ने भी कार्यक्रम के दौरान कई बार उनके हौंसले की प्रशंसा की और उन्हें मंच पर बुलाकर उनके साथ नृत्य भी किया।

---------------

नंदा देवी मेले के लिए ऑडिशन शुरू

अल्मोड़ा : नंदा देवी मेले के लिए मंदिर के गीता भवन में ऑडिशन शुरू हो गए हैं। मंगलवार को इस ऑडिशन में अलग अलग वर्ग के अनेक युवाओं ने प्रतिभाग किया और अपनी प्रतिभा का हुनर दिखाया। कार्यक्रम के मुख्य संयोजक मनोज सनवाल ने बताया कि इस ऑडिशन में चयनित प्रतिभागी नंदा देवी मेले में अपनी प्रस्तुति देंगे। कुमाऊंनी ¨हदी गायन के ऑडिशन के निर्णायक मंडल रंगकर्मी अनिल सनवाल और प्रकाश बिष्ट रहे। इस मौके पर सांस्कृतिक संयोजक तारा चंद्र जोशी, मनोज वर्मा समेत अनेक पदाधिकारी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran