संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : पहाड़ पर गुरुवार को आंशिक बादलों के बीच दिनभर धूप खिली रही। काफी दिनों बाद धूप रहने से लोगों में भी नई ऊर्जा का संचार रहा। उन्होंने ठंड से राहत महसूस की। वहीं बिनसर क्षेत्र में हिमपात भी हुआ। मुख्यालय का अधिकतम तापमान 14 तथा न्यूनतम तापमान एक डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

पहाड़ पर बीते शुक्रवार से मौसम खराब चल रहा था। इस दौरान ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हिमपात था निचले इलाकों में बारिश से पर्वतीय अंचल में अत्यधिक ठंड पड़ रही थी। बीते बुधवार को बिनसर क्षेत्र में हिमपात भी हुआ। गुरुवार की सुबह भी मुख्यालय व इसके आसपास के क्षेत्रों में घना कोहरा छाया रहा। पूर्वाह्न में सूरज की तपिश से यह छंट गया। वहीं धूप निकल आने से लोगों ने ठंड से राहत महसूस की। अन्य दिनों की तुलना में मौसम साफ होने से मुख्यालय के आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के लोग बाजार पहुंचे। उन्होंने अपने-अपने घरों के लिए जरूरी सामान की खरीदारी की। इससे बाजारों में रौनक रही। साफ मौसम के बीच फड व्यवसायियों के साथ ही दैनिक मजदूरी कर अपने परिवार का भरण पोषण करने वाले श्रमिकों ने भी राहत की सांस ली। इधर ग्रामीण क्षेत्रों के काश्तकार जहां प्याज के पौध की निराई- गुड़ाई में जुटे रहे, वहीं आलू की बोआई के लिए खेत तैयार करने में जुटे रहे। इधर विवेकानंद पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के कृषि विज्ञानी डा.बीएम पांडे का कहना है कि हालिया बारिश से रबी की फसल को लाभ मिलेगा। खेतों में पर्याप्त नमी होने से गेहूं, जौ, चना, मटर, मसूर के पौधों की बढ़वार अब जल्दी होगी। इससे फसल उत्पादन बेहतर होगा और इससे काश्तकारों को राहत मिलेगी।

Edited By: Jagran