द्वाराहाट, [जेएनएन]: भाजपा की परिवर्तन रैली में पूर्व केंद्रीय मंत्री सतपाल महाराज के निशाने पर मुख्यमंत्री हरीश रावत ही रहे। उन्होंने स्टिंग प्रकरण को जोर शोर से उठाते हुए कहा कि सीएम पद की शपथ का मुख्यमंत्री ने अनुसरण करने के बजाय भ्रष्टाचार का सहारा लिया।

महाराज ने कहा कि पहाड़ से पलायन रोकने व बेरोजगारी दूर करने के लिए प्रदेश की कांग्रेस सरकार के पास कोई नीति नहीं है। ना ही इस दिशा में कोई ठोस कदम उठाए गए। उन्होंने कार्यकर्ताओं से इस बार कांग्रेस सरकार को सत्ता से बेदखल करने का आह्वान भी किया।

पढ़ें-उत्तराखंड में 1045 करोड़ की घोषणाओं को महज 82 लाख जारीः मुन्ना सिंह
नगर के मुख्य चौराहा पर शुक्रवार को परिवर्तन रैली में सतपाल महाराज ने कांग्रेस पर खूब भड़ास निकाली। कहा कि मुख्यमंत्री हरीश रावत के नेतृत्व में प्रदेश आगे बढ़ने के बजाय पिछड़ता जा रहा है। भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए सतपाल ने कहा मुख्यमंत्री राज्य के पर्वतीय जिलों से पलायन रोकने को जहां ठोस नीति न बना सके, वहीं बेरोजगारों को छलने का भी काम किया है।

पढ़ें-मुख्यमंत्री भी सार्वजनिक करें खातों का ब्योरा: बलूनी
केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि जो काम कांग्रेस 50 वर्षों में न कर सकी वह मोदी सरकार ने महज ढाई वर्ष में कर दिखाया। कर्णप्रयाग से गैरसैंण व बागेश्वर तक रेल सेवा के सर्वे के बाद अब वित्तीय मंजूरी की ओर कदम बढ़ा लिए गए हैं। सभा को केंद्रीय राज्य मंत्री अजय टम्टा ने भी संबोधित किया।

पढ़ें-गंगा स्नान करने से भी नहीं धुलेंगे मुख्यमंत्री के पाप : महाराज

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप