अल्मोड़ा, जेएनएन : राजस्व वादों के साथ विभिन्न देयकों की वसूली में कोताही बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अगर राजस्व अमीनों द्वारा वसूली के कार्य में आशातीत प्रगति नहीं लाई जा रही तो संबंधित का वेतन काटने की कार्रवाई शुरू कर दी जाए। इसके अलावा मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोघाओं को किसी भी स्तर पर लंबित ना रखा जाए।

जिला कार्यालय में कानून व्यवस्था की बैठक को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी नितिन भदौरिया ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि अधिकारी क्षेत्र भ्रमण के दौरान वाहनों की चेकिग के साथ साथ मजिस्ट्रेटी जांच से लंबित मामलों का निस्तारण भी समय से करें। सड़क हादसों में कमी लाई जा सके इसके लिए समय समय पर जागरूकता अभियान चलाए जाएं। राजस्व वसूली के मामले में निर्देश देते हुए डीएम ने कहा कि प्रत्येक उपजिलाधिकारी अपने अपने क्षेत्रों में पंद्रह दिनों में वसूली की समीक्षा करें। खाद्य सुरक्षा विभाग के अधिकारियों को भी डीएम ने खाद्य पदार्थों की चेकिग, आबकारी विभाग को शराब की दुकानों पर ओवर रेटिग की समस्या को दूर करने, किसानों को केसीसी कार्ड उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों में किसी भी प्रकार की अनियमितता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस मौके पर एडीएम बीएल फिरमाल, डीएफओ केएस रावत, एसडीएम सीमा विश्वकर्मा, अभय प्रताप सिंह, राहुल साह, राजकुमार पांडे, मनोहर लाल, वीर सिंह, शैलेष तिवारी, अरूण कुमार गौड़, राकेश जोशी आदि मौजूद रहे।

--------------------------

प्राथमिकता से करें प्राधिकरण से जुड़े कार्य

अल्मोड़ा : जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने कलक्ट्रेट में आयोजित बैठक में प्राधिकरण से जुड़े कार्यों को प्राथमिकता से करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आवेदकों को यथाशीघ्र भवन के नक्शे प्राप्त हो सकें। इसके लिए सामंजस्य बनाकर कार्य करें। उन्होंने उपिजलाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि अवैध निर्माण पर अंकुश लगाया जाए और नियमों का पूरा पूरा पालन कराया जाए। भदौरिया ने कहा कि निर्माण कार्य का मलबा डंपिग जोन में ही फेंका जाए। इसके लिए गंभीरता से कार्य किया जाए। उन्होंने कहा कि अगर कोई व्यक्ति नियमों का उल्लघंन करता हुआ पाया गया तो उसके खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस