संवाद सहयोगी, रानीखेत : पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन गु्रप (एसओजी) ने ताबड़तोड़ दबिश दी। सूत्रों की मानें तो पर्यटन नगरी में अंतरराज्यीय ऑटो लिफ्टर गैंग की सक्रियता की गुप्त सूचना पर तमाम ठिकानों पर छापे मारे गए। टीम ने दिल्ली व उत्तर प्रदेश नंबर की दो कार बरामद कर तीन चार संदिग्ध को हिरासत में भी ले लिया। उसकी निशानदेही पर एसओजी ने शहर के कुछ और इलाकों में दबिश दी। शराब के अवैध कारोबार में युवक के अपहरण प्रकरण में एसओजी की रानीखेत में यह दूसरी बड़ी कार्रवाई है।

नगर क्षेत्र में अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह की घुसपैठ तथा बाहरी राज्यों की गाड़ियां चोरी कर रानीखेत पहुंचाए जाने की सूचना पर पुलिस महकमा हरकत में आ गया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पी रेणुका देवी के निर्देश पर सोमवार को एसओजी प्रभारी हेमेंद्र चौधरी ने टीम के साथ नगर क्षेत्र में ताबड़तोड़ दबिश दी। सूत्रों के मुताबिक बाजार से सटे इलाके से दिल्ली व उत्तर प्रदेश के नंबर वाली वैगनार व आइटेन कार बरामद कर ली गई। दोनों वाहन चोरी के बताए जा रहे। साथ ही एसओजी ने तीन चार संदिग्ध युवकों को भी उठा लिया। पूछताछ के लिए इन्हें कोतवाली ले जाया गया।

सूत्रों ने दावा किया कि हत्थे चढ़े युवकों का अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह से गहरा कनेक्शन है और गिरोह के सक्रिय सदस्य भी हैं। कार्रवाई इतनी तेजी से की गई कि कोतवाली पुलिस को भी भनक तक नहीं लगी। हालांकि रात को दूसरे व तीसरे चरण की दबिश के लिए कुछ तेज तर्रार पुलिस कर्मी जस्र साथ रखे गए। इधर छापों के साथ संदिग्ध लोगों को उठाए जाने से नगर क्षेत्र में हड़कंप रहा।

==============

आज होगा कोई सनसनीखेज खुलासा

सूत्रों ने बताया कि दो कारों की बरामदगी के बाद एसओजी की टीम ने अलग अलग ठिकानों से चार पांच स्कूटी भी बरामद कर कोतवाली ले आई। ये भी चोरी की बताई जा रही। एसओजी सूत्र ने दावा किया कि मंगलवार की सुबह बड़ा खुलासा किया जाएगा।

=============

'अभी जांच की जा रही है। पता लगा रहे हैं कि गाड़ियां कहां किसकी हैं। एक व्यक्ति से पूछताछ की जा रही है। पूरी जांच के बाद ही सत्यता सामने आएगी। कल सुबह तक खुलासा कर देंगे कि वास्तविकता क्या है।

- पी रेणुका देवी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक'

Posted By: Jagran