रानीखेत, अल्‍मोड़ा [जेएनएन]: उत्तर प्रदेश के उन्नाव व बिहार के सासाराम में दुष्कर्म की घटनाओं के बाद जम्मू एवं कश्मीर के कठुआ फिर गुजरात के सूरत में मासूम से दुष्कर्म व हत्या से जनाक्रोश भड़क उठा है। कोसी घाटी में विभिन्न संगठनों ने दरिंदगी के खिलाफ प्रदर्शन किया, वहीं पर्यटन नगरी में पैदल मार्च निकाल कांग्रेसियों ने केंद्र सरकार पर हल्ला बोला।

अंतरजनपदीय सीमा स्थित कोसी घाटी में व्यापार मंडल व अन्य संगठनों से जुड़े युवा सोमवार को सायं सड़क प उतर आए। उन्होंने उन्नाव, सासाराम, कठुआ तथा सूरत में मासूमों के साथ दुष्कर्म व हत्या के खिलाफ प्रदर्शन किया। सभा में वक्ताओं ने कहा कि ऐसी घटनाओं से पूरा देश शर्मसार हुआ है। आरोपियों को सजा-ए-मौत दी जानी चाहिए। ताकि दोबारा ऐसी घटनाएं ना हो।

इस दौरान देवभूमि व्यापार मंडल अध्यक्ष गजेंद्र नेगी, भैरव नैनवाल, मुकेश त्रिपाठी, फिरोज अहमद, मनीष तिवारी, पूरन सिंह नेगी, पूरन लाल साह, कुंदन जलाल, गोपाल नेगी, कुंदन सिंह, दीपक बोरा, दीपक पंत, सुमित कुमार, मोहन सिंह, कुंदन नेगी, बालम बोहरा, देवेंद्र बिष्ट, बालम बिष्ट आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: निजी स्‍कूलों की मनमानी के खिलाफ आंदोलन किया शुरू

यह भी पढ़ें: एनसीईआरटी किताबों ने बढ़ाई मुश्किलें, अभिभावक काट रहे चक्कर

यह भी पढ़ें: आयकर विभाग ने सीज किया श्रीनगर मेडिकल कॉलेज का खाता

Posted By: Sunil Negi