संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : मां नंदा देवी मेले को भव्य रूप प्रदान करने के लिए मेला समिति ने तैयारियां तेज कर दी हैं। मेले के लिए समिति ने विभिन्न लोगों को जिम्मेदारियां भी सौंपी हैं।

कार्यक्रम के मुख्य सांस्कृतिक संयोजक तारा चंद्र जोशी ने बताया कि इस मेले में प्रतिभाओं को उभारने के लिए अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने बताया मेले का मुख्य आकर्षण कुमाऊंनी व हिंदी गायन प्रतियोगिता होगी। जिसके लिए चार सितंबर ऑडिशन को होगा। जिसमें जूनियर और सीनियर वर्ग के कलाकारों का चयन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि चयनित अभ्यर्थियों को 7 से 17 सितंबर तक गीता भवन में वाद्य यंत्रों के साथ प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रतियोगिता के संयोजक प्रकाश बिष्ट और गीता देवी ने अधिक से अधिक लोगों से इस ऑडिशन में भाग लेने की अपील की है। मेले में आयोजित होने वाली प्रतियोगिताओं के लिए मीना भैंसोड़ा को झोड़ा, रीता दुर्गापाल को सांस्कृतिक जुलूस, गीता मेहरा को विद्यालयी सांस्कृतिक जुलूस, प्रभा पांडे को मेंहदी और ऐपण, राधा तिवारी को भल इज, उदय किरौला को कुमाऊंनी भाषण, प्रदीप बिष्ट और रवि गोयल को मूर्ति निर्माण, मंदिर और परिसर व्यवस्था के लिए अनूप साह, नरेंद्र वर्मा, लीलाधर जोशी, हरीश जोशी, टीसी जोशी को जिम्मेदारी सौंपी गई हैं। इस मौके पर अध्यक्ष मनोज वर्मा, मनोज सनवाल, जीवन नाथ वर्मा, अमरनाथ नेगी, हरीश बिष्ट, अन्नू साह, राजेश पलनी, प्रीति बिष्ट, अर्जुन बिष्ट समेत अनेक लोग मौजूद रहे।

Posted By: Jagran