संवाद सहयोगी, दन्यां: सरयू घाटी के अन्तर्गत अनेक गांवों में पिछले काफी दिनों से गुलदार का आतंक जारी है। गत सायं चिमाखोली गांव में हरीश चंद्र भट्ट के गोठ में घुस कर गुलदार ने बकरी को अपना निवाला बना डाला। क्षेत्र के पशुपालकों ने वन विभाग से गुलदार के आतंक से निजात दिलाने की मांग की है।

चिमाखोली गांव निवासी हरीश चंद्र भट्ट ने बताया कि गुलदान गत सायं उनके गोठ में घुस गया और उसने गोठ में ही एक बकरी को मार डाला। जब तक घर वालों द्वारा हल्ला किये जाने पर गुलदार मरी हुई बकरी को छोड़कर भाग गया। क्षेत्र के लोगों ने बताया कि अब तक गुलदार काभड़ी, मयोली, कफलनी आदि अनेक गांवों में पिछले तीन माह के भीतर एक दर्जन से अधिक मवेशियों को अपना निवाला बना चुका है। ग्रामीणों ने वन विभाग से प्रभावित पशुपालकों को मुआवजा प्रदान करने और गुलदार के आतंक से निजात दिलाने की मांग की है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप