संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : वासंतिक नवरात्र शनिवार से शुरू हो रहे हैं। इसके मद्देनजर नगर स्थित देवी मंदिरों को विशेष तौर पर सजाया संवारा गया है। नगर की दुकानें नवरात्र की पूजन सामग्री से सज गई हैं। वहीं शुक्रवार को नवरात्र व्रत के लिए लोगों ने आवश्यक पूजन सामग्री क्रय की। इससे बाजारों में दिनभर रौनक बनी रही।

नव संवत्सर व वासंतिक नवरात्र का शुभारंभ शनिवार से हो रहा है। इसके लिए नगर स्थित नंदादेवी मंदिर, मां त्रिपुरासुंदरी देवी, उल्कादेवी, शीतला देवी, कालिका देवी, पातालदेवी समेत विभिन्न देवी मंदिरों को सुंदर ढंग से सजाया गया है। इन मंदिरों के पुजारी लोगों को नवरात्र के दौरान पूजा अर्चना में किसी भी प्रकार की असुविधाओं का सामना नहीं करना पड़े, इसकी तैयारियों में जुटे रहे। उन्होंने मंदिर परिसर में सफाई अभियान भी चलाया। इधर नवरात्र के दृष्टिगत अब बाजार में रौनक बढ़ चली है। नगर समेत आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों से पहुंचे लोगों ने नवरात्र में मां दुर्गा की पूजा अर्चना के लिए चुनरी, श्रृंगार पिटारी, फल, बताशे, मिठाई वगैरह खरीदी।

पं. हरीश चंद्र जोशी के अनुसार नवरात्र में व्रत रखकर देवी की पूजा अर्चना करने से मनुष्य को अभीष्ट की प्राप्ति होती है। उन्होंने बताया कि वर्ष में यूं तो अनेक नवरात्र आते हैं, लेकिन वासंतिक व शारदीय नवरात्र में मां दुर्गा का गुणगान व पूजा-अर्चना अभीष्ट को प्रदान करने वाली होती है।

Posted By: Jagran