संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : नगर से कोसी बैराज में साहसिक खेलों को बढ़ावा देने की योजना अमल में नहीं आ पाई है। मुख्यमंत्री ने करीब ढाई साल पहले बैराज के पास वाटर एडवेंचर स्पो‌र्ट्स सेंटर खोलने की घोषणा की थी, लेकिन बजट की कमी के चलते अब तक इस सेंटर का निर्माण नहीं हो सका है। जिस कारण यहां पर्यटन को बढ़ावा देने की मंशा भी अधूरी रह गई है।

कोसी नदी में बैराज के निर्माण के बाद यहां पर्यटकों की आवाजाही को बढ़ाने और वाटर गेम्स शुरू के लिए यहां वाटर एडवेंचर स्पो‌र्ट्स सेंटर बनाने की योजना मुख्यमंत्री की घोषणा में शामिल थी। जिसमें करीब तीन करोड़ की लागत से लैंड स्केप पार्क, रोपकोर्स एक्टिविटी, बायो टायलेट, आíटफिशियल वॉल व पर्यटकों के लिए टेंट कॉलोनी का निर्माण किया जाना था। जबकि केनोइंग, राफ्टिग जैसे साहसिक खेलों को बढ़ावा देने की भी मंशा थी, लेकिन तीन करोड़ रुपये की लागत के सापेक्ष पर्यटन विभाग को केवल 79.45 लाख रुपये की प्राप्त हो सके। जिसके बाद थोड़ा बहुत काम होने के बाद अन्य कार्य अधर में लटक गए और साहसिक खेलों और पर्यटन को बढ़ावा देने की कवायद अधूरी रह गई। ========= पूर्व में शासन ने इस योजना की लागत को घटाकर 79.45 लाख रुपये कर दिया था। दोबारा आंगणन बनाकर शासन को भेजा गया है। बजट मिलते ही कार्य शुरू करा दिया जाएगा।

- राहुल चौबे, जिला पर्यटन अधिकारी, अल्मोड़ा

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप