रानीखेत : अल्मोड़ा हल्द्वानी हाईवे स्थित रामगाढ़ जल विद्युत परियोजना का ऑपरेटर करंट की चपेट में आकर झुलस गया। खंभे पर तगड़ा झटका लगने से वह नीचे गिर गया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल भी हो गया। उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है।

कोसी घाटी स्थित मझेड़ा गाव (बेतालघाट) निवासी विनोद पाडे रामगाढ़ जल विद्युत परियोजना में ऑपरेटर है। रविवार को परियोजना के समीप शिप्रा नदी के पार फ्यूज फट जाने से तमाम गावो की आपूर्ति ठप हो गई थी। विनोद ने ट्रासफार्मर मैनुअल ऑपरेटर (टीसीपी) को बंद किया। फ्यूज बाधने के लिए पोल पर चढ़ा ही था कि एकाएक जोरदार झटके के साथ वह जमीन पर आ गिरा। हो हल्ला सुन आसपास के लोगों ने उसे सीएचसी गरमपानी पहुंचाया। प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने उसे हल्द्वानी रेफर कर दिया। ऑपरेटर विनोद का हाथ बुरी तरह झुलस गया। तेज झटके से खंभे से गिरने के कारण उसे गंभीर चोट भी पहुंची है।

Posted By: Jagran