संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : शनिवार को अल्मोड़ा महोत्सव की तीसरी शाम बॉलीवुड के मशहूर गायक कुणाल गांजावाला के नाम रही। कुणाल ने जैसे ही मंच संभाला सैकड़ों की संख्या में उमड़ी भीड़ ने थिरकना शुरू कर दिया। गांजावाला ने एक के बाद एक मनमोहक प्रस्तुति दी और दर्शकों की जमकर वाहवाही लूटी। गांजावाजा को सुनने के लिए देर रात तक सैंकड़ों दर्शक कड़ाके की ठंड के बाद भी दर्शक दीर्घा में जमे रहे।

महोत्सव की तीसरी शाम आयोजित स्टार नाइट के मुख्य आकर्षण बॉलीवुड के मशहूर गायक कुणाल गांजावाला रहे। गांजावाला ने सबसे पहले फिल्म काल का काल काल में हम तुम करें धमाल.. गीत प्रस्तुत किया। उसके बाद चर्चा तेरे इश्क का दिल विच लगाया वे, तुमसे यूं मिलेंगे हमने सोचा ना था, दिन कह रहा है तुझसे यूं रिश्ता जोड़ लूं, मेरे बिन कहीं लगता नहीं दिल, भीगे होंठ तेरे प्यासा दिल मेरा, चन्ना वे घर आ जा वे जैसी मनमोहक प्रस्तुतियां कुणाल गांजावाला ने दी। कुणाल के गीतों ने शुरूआत से ही महोत्सव में समा बांध दिया था। कुणाल गांजावाला ने भी दर्शकों के उत्साह की तारीफ की और दोबारा अल्मोड़ा आने की मंशा व्यक्त की।

महोत्सव के दौरान जिलाधिकारी नितिन भदौरिया, एसएसपी पीएन मीणा, सीडीओ मनुज गोयल, एडीएम बीएल फिरमाल, एसडीएम सीमा विश्वकर्मा, नरेश कुमार, एसओ अरूण वर्मा, राजेश बिष्ट, ललित लटवाल, अजनेश राणा, राकेश जोशी, बिट्टू कर्नाटक, विनोद राठौर, विद्या कर्नाटक, अभय कुमार, एएस रावत, वर्षा शर्मा समेत अनेक गणमान्य लोग और महोत्सव के स्वयंसेवक मौजूद रहे। वहीं महोत्सव के दौरान शेडो आíटस्ट के प्रदर्शन को भी दर्शकों ने खूब सराहा। मुंबई से पहुंचे इन कलाकारों ने लेजर शो के जरिए देश भक्ति से जुड़े कार्यक्रम प्रस्तुत किए।

==========

फौजदार के हास्य व्यंग ने किया लोटपोट

अल्मोड़ा : हास्य कवि प्रताप फौजदार ने अल्मोड़ा महोत्सव में दर्शकों को लोटपोट होने के लिए मजबूर कर दिया। फौजदार ने राज नेताओं समेत नोटबंदी, पुलिस व अन्य विषयों के अलावा अपने देश विदेश के अनुभव अपने अंदाज में लोगों से साझा किए। करीब आधे घंटे की अपनी प्रस्तुति में फौजदार लोगों की जमकर वाहवाही लूटी और सभी को ठहाके लगाने पर मजबूर कर दिया। इनके अलावा पूनम वर्मा, सौरभ कांत, नरेश चौधरी, मनी नमन ने भी बेहतरीन काव्य पाठ किया।

==========

स्कूली बच्चों ने कार्यक्रमों ने भी बांधा समां

अल्मोड़ा : जीआइसी के मैदान में चल रहे महोत्सव के दौरान शनिवार की शाम स्कूली बच्चों ने भी रंगारंग कार्यक्रमों का आयोजन कर समा बांध दिया। शारदा पब्लिक स्कूल के बच्चों ने असम का बिहू नृत्य व उत्तराखंडी संस्कृति पर आधारित लोकगीत और लोकनृत्य प्रस्तुत किए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप