संस, अल्मोड़ा : भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मा‌र्क्सवादी) की जिला इकाई ने लगातार बढ़ रही महंगाई के विरोध में गुरुवार को धरना-प्रदर्शन किया। केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। कहा गया कि यदि जल्द बढ़ती महंगाई पर अंकुश को कारगर उपाय नहीं किए गए तो पार्टी आंदोलन तेज करने को बाध्य होगी। स्पष्ट तौर पर कहा गया कि जनहितों की अनदेखी कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसके लिए चाहे पार्टी को कितना की संघर्ष क्यों नहीं करना पड़े।

धरने के दौरान हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि पार्टी 1990 से सरकारों की नई आíथक नीतियों के नाम पर लाई गई नवउदारवादी नीतियों का विरोध करती रही है। वहीं वर्तमान केंद्र में बैठी मोदी सरकार इन नीतियों को लागू करने पर आमादा है। संविधान प्रदत्त सभी लोक कल्याणकारी योजनाओं को बर्बाद कर दिया गया है। इसकी मार देश की जनता के हर तबके पर पड़ रही है।प्रतिरोध की ताकत को अवैधानिक कानून बनाकर डराने की कोशिशें की जा रही है।छोटे व्यापारी, लाकडाउन में रोजगार खो चुके बेरोजगार, बेरोजगार, छात्र, नौजवान, कर्मचारी, मजदूर सभी महंगाई से प्रभावित है।

वक्ताओं ने कहा कि सरकार जनता के लिए पैसा खर्च करे ताकि जनता की क्रय शक्ति बढ़े, जिससे उत्पादन बढे़गा और रोजगार में वृद्धि होगी। कहा कि कार्पोरेट्स को सब्सिडी देकर विकास का सही स्वरूप कभी सफल नहीं होगा जिसे सरकार लागू कर रही है। कहा कि जनता व किसानों को दी जाने वाली सब्सिडी बढ़ाई जाए तथा एनपीए के पैसे को बड़े उद्योगपतियों से वसूला जाए। सरकार से पेट्रोल,डीजल व खाद्यान्न वस्तुओं में बढ़ाई गई कीमतों को वापस लिए जाने की मांग उठाई गई।

सभा को सेंट्रल ट्रेड यूनियन के जिला संयोजक आरपी जोशी, उत्तराखंड किसान सभा के जिला संयोजक दिनेश पांडे, जनवादी महिला समिति की जिला उपसचिव पूनम जोशी , जिला अध्यक्ष मुन्नी प्रसाद, राज्य अध्यक्ष एडवोकेट सुनीता पांडे, केंद्रीय कर्मचारी पेंशनर्स एसोसिएशन के प्रांतीय सचिव महेश आर्य ने संबोधित किया। सभा में जनवादी नौजवान सभा के जिला अध्यक्ष स्वप्निल पांडे, योगेश कुमार, प्रमोद जोशी, किरण राणा, पार्वती देवी,जया पांडे आदि मौजूद रहे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021