संस, रानीखेत : अधिवक्ताओं की वर्षो पुरानी मुराद अब पूरी होने जा रही। तहसील परिसर में विधायक निधि से अधिवक्ताओं के लिए आधुनिक सुविधाओं वाले आठ चैंबर बनाए जाएंगे। उपनेता प्रतिपक्ष करन सिंह माहरा ने इसकी घोषणा करते हुए लोनिवि अधिकारियों को आगणन बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने रानीखेत में स्थायी परिवार न्यायालय की स्थापना का भरोसा दिलाते हुए कहा कि इस मामले में जल्द ही मुख्यमंत्री से वार्ता कर ठोस हल निकाला जाएगा।

तहसील मुख्यालय में 10 लाख रुपये की लागत से पुस्तकालय एवं अरायजनवीस कक्ष बनाने पर बार संघ की ओर से मंगलवार को उपनेता प्रतिपक्ष करन का नागरिक अभिनंदन किया गया। इस दौरान हुई सभा में करन ने कहा कि अधिवक्ताओं की सुविधा को लाकर युक्त आठ चैंबर बनाए जाएंगे। पूर्व की भांति जिला एवं सत्र न्यायाधीश का प्रतिमाह एक बार लगने वाला वृहद शिविर फिर शुरू कराने को विधि सचिव के माध्यम से गृह विभाग से वार्ता का भरोसा दिलाया। उपनेता माहरा ने कहा कि सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत से वार्ता कर रानीखेत में स्थायी परिवार न्यायालय की स्थापना को मजबूती से बात रखी जाएगी। जरूरत पड़ी तो अधिवक्ताओं का शिष्टमंडल भी ले जाएंगे। तब तक शिविर लगाए जाने के प्रयास होंगे। ताकि सल्ट, स्याल्दे, भिकियासैंण, देघाट, पांडुवाखाल, मोहान, चौखुटिया क्षेत्र की महिलाओं को बेहतर सुविधा मुहैया कराई जा सके। इस मौके पर बार संघ अध्यक्ष गंगा सिंह रावत, पूर्व अध्यक्ष राजेश रौतेला, रघुनंदन वैला, प्रमोद पांडे, चंद्रप्रकाश पांडे, महेंद्र सिंह बिष्ट, प्रकाश रौतेला, प्रभात सिंह बिष्ट, सहायक शासकीय अधिवक्ता हरीश मनराल, महेंद्र बिष्ट, ललित आर्या, देवेंद्र मेहरा, कोषाध्यक्ष दीपक भगत, विजय पांडे, कुबेर कार्की आदि मौजूद रहे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021