संवाद सहयोगी, भिकियासैंण : मादक पदार्थो की तस्करी पर शिकंजा कसने के बाद नशे के तस्कर नए तरीके अपने लगे हैं। टैक्सी के बजाय अब वे यात्री बस के जरिये तस्करी कर रहे हैं। गढ़वाल मोटर आनर्स यूनियन (जीएमओयू) की बस से गांजा तस्करी में लिप्त मुरादाबाद के दो शातिर गिरफ्तार कर लिए गए। उनके सूटकेस से 26.84 किलो मादक पदार्थ बरामद हुआ। आरोपितों ने खुलासा किया कि सुदूर गांवों से चरस व गांजा जमा कर वे भातो कालोनी मुरादाबाद (उत्तर प्रदेश) में ऊंची कीमत पर बेचते हैं।

नशामुक्त पहाड़ की थीम पर कप्तान पंकज भट्ट के निर्देशन में मादक पदार्थो की तस्करी पर नकेल को जिलेभर में मुहिम तेज कर दी गई है। मंगलवार को भतरौजखान पुलिस ने एसओ अनीस अहमद के साथ भिकियासैंण चौकी तिराहा पर सघन चेकिंग अभियान चलाया। देघाट से रामनगर जा रही जीएमओयू की बस में बैठे विवेकानंद अस्पताल के पास मोरा की मिलक निवासी बाबू पुत्र नन्हें व मोरा मिलक काठ रोड मुरादाबाद निवासी अजीत सिंह से पूछताछ की गई। संदेह पर उनके बैग की तलाशी में 12.80 व सूटकेस से 14.76 किलो गांजा बरामद किया गया। टीम में भिकियासैंण चौकी प्रभारी देवेंद्र सामंत, कांस्टेबल शमीम अहमद, महेंद्र कुमार, वीरेंद्र सिंह शामिल रहे। एसओ अनीस अहमद के मुताबिक दोनों आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। उन्हें न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। स्मैक तस्करी में अभियुक्त की जमानत अर्जी खारिज

संस, अल्मोड़ा : विशेष सत्र न्यायाधीश मलिक मजहर सुल्तान की अदालत ने स्मैक तस्करी के मामले में अभियुक्त की जमानत अर्जी खारिज कर दी। जिला शासकीय अधिवक्ता पूरन सिंह कैड़ा ने न्यायालय को बताया कि बीती छह फरवरी को पुलिस ने बेस तिराहा के पास से अभियुक्त नादिर खान पुत्र नाजिम खान निवासी ग्राम भट्टीटौला रामपुर (उप्र) के पास से 105.60 ग्राम स्मैक बरामद की थी। उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। अदालत ने उसे जेल भेज दिया। जिला शासकीय अधिवक्ता ने अभियुक्त की जमानत अर्जी का पुरजोर विरोध करते हुए दलील दी कि यदि उसे जमानत पर रिहा किया जाता है तो वह दोबारा अपराध की पुनरावृत्ति कर सकता है। न्यायालय ने अभियुक्त की जमानत अर्जी खारिज कर दी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021