संवाद सहयोगी, रानीखेत : शहीद बलवंत सिंह भुजान वधरें मोटरमार्ग पर कलमठ के भीतर पड़ा शव लगभग 18 घटे बाद निकाल लिया गया। मृतक की शिनाख्त सिमराड़ गाव (बेतालघाट) निवासी गोपाल दत्त के रूप में हुई है। वह पिछले एक माह से लापता थे। परिजनों ने गुमशुदगी भी दर्ज कराई थी।ण्

बढेरी स्थित शिव मंदिर में बाबा पंकजगिरि ग्रामीणों के साथ बीते शनिवार शाम करीब चार बजे मंदिर की पेयजल लाइन दुरुस्त करने के लिए शहीद बलवंत सिंह भुजान वधरें मोटरमार्ग पर धारी ग्राम पंचायत की सीमा पर पहुंचे। ये लोग नदी की ओर उतरे ही थे कि भीषण दुर्गध से ठिठक गए। रोड पर बने कलमठ के अंदर झाक कर देखा तो वहा शव पड़ा था। बेतालघाट थाना व राजस्व पुलिस को सूचना दी गई। राजस्व उपनिरीक्षक भुवन जोशी व विनोद परगाई के साथ ही बेतालघाट पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंची। अंधेरा होने की वजह से शव नहीं निकाला जा सका।

इधर रविवार को करीब दस बजे थानाध्यक्ष बेतालघाट रोहिताश सागर के नेतृत्व में पुलिस कर्मियों ने कलमठ के अंदर से शव को बाहर निकाला। मृतक की जेब से मिले आधार कार्ड से उसकी शिनाख्त सिमराड़ निवासी गोपाल दत्त (56)पुत्र मथुरा दत्त के रूप में हुई।

==================

नाराज होकर घर से निकल गए थे गोपालदत्त

गोपाल दत्त बीते एक माह से घर से लापता थे। बेटी चंपा ने राजस्व उपनिरीक्षक निधि चौधरी के कार्यालय में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। घटनास्थल पर पहुंची चंपा का रो-रोकर बुरा हाल था। खुलासा किया कि पिता घर से किसी बात पर नाराज होकर चले गए थे। तब से उनका कहीं कुछ पता नहीं चल सका था। इस मौके पर राजस्व निरीक्षक निधि चौधरी, दया किशन बधानी, करन बधानी, भैरव सती, चंद्रशेखर सती, किशोर सती, भुवन सती, दीपा देवी, भुवन जोशी, माधव शाही, नंदन सिंह, नवीन जंतवाल आदि मौजूद रहे।

====================

'प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या का लग रहा है। शव सड़ी गली अवस्था में है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी। फिलहाल सभी बिंदुओं पर जाच की जाएगी।

-रोहिताश सागर, थानाध्यक्ष बेतालघाट'

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस