संस, चौखुटिया (अल्मोड़ा): गनाई बाजार स्थित मकान में नाबालिग छात्र ने पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली। कमरे से मिले सुसाइड नोट में उसने दो छात्रों व अन्य को जिम्मेदार ठहराया है।

मूल रूप से गैरसैंण निवासी एवं सीएचसी चौखुटिया में तैनात अवतार सिंह पवार का पुत्र अभय सिंह (16) राजकीय इंटर कॉलेज चौखुटिया में कक्षा 11 का छात्र था। शुक्रवार को छुट्टी के बाद करीब पौने एक बजे वह अपने कमरे में पहुंचा। कुछ ही देर बाद अभय की छोटी बहन भी स्कूल से घर आई। कमरा खोलते ही अंदर का दृश्य देख उसके होश उड़ गए। अभय को पंखे से लटका हुआ देख उसने तुरंत रस्सी काटी, लेकिन तब तक वह दम तोड़ चुका था।

सूचना पर पिता भी अस्पताल से कमरे में आ गए। घर में कोहराम मच गया आसपास के लोग भी जुट गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए रानीखेत भेजा। एसओ रमेश बोहरा ने इस मामले में परिजनों से पूछताछ की, लेकिन आत्महत्या जैसा कदम उठा लेने के पीछे वह भी कुछ स्पष्ट नहीं बता सके। पुलिस के मुताबिक बिस्तर पर मिले सुसाइड नोट में मेरी मौत के पीछे दो छात्रों के नाम व अन्य लोग लिखकर छोड़ा है। उसमें दस्तखत भी नहीं हैं। परिवार वालों की ओर से तहरीर मिलने पर लिखावट का मिलान कराया जाएगा।

-------- सीधा स्वभाव का था अभय पवार

पिता अवतार सिंह बेटे की मौत से बेहद सहम गए तथा वह कुछ बताने की स्थिति में नहीं दिखे। काफी देर बाद उन्होंने कहा कि बेटे ने पहले कभी किसी से झगड़ा होने की बात नहीं बताई। न ही ऐसा कुछ आभास पहले हुआ। साथियों व परिजनों के अनुसार वह काफी सीधे स्वभाव का छात्र था। अभय ने 17 जुलाई को ही स्कूल में प्रवेश लिया था। इससे पूर्व वह सरस्वती विद्या मंदिर का छात्र रहा।

Posted By: Jagran