संवाद सहयोगी, रानीखेत : कोसी घाटी के उपखनिज क्षेत्रों में पट्टाधारकों व क्रशर स्वामियों पर प्रशासन ने निगाह टेढ़ी कर ली है। मानक के उल्लंघन की शिकायतों पर शिकंजा और कस दिया है। कुछ दिन पूर्व मानक से अधिक अवैध स्टॉक पर 58.13 लाख रुपये का जुर्माना ठोका गया था। इधर प्रशासन एक बार फिर एक्शन मोड पर आ गया है। टीम ने रविवार को ताबड़तोड़ छापे मार तीन स्टोन क्रशर व एक पट्टेधारक पर 11.28 लाख रुपये जुर्माना लगाया है।

जिला प्रशासन के निर्देश पर उप जिलाधिकारी कोश्या कुटौली गौरव चटवाल के नेतृत्व में राजस्व टीम ने कोसी घाटी में रतौडा़, नैनीचैक, बेतालघाट तथा सेठी क्षेत्र में ताबड़तोड़ छापे मारे। एकाएक हुई कार्रवाई से खनन कारोबारियों में हड़कंप मच गया। राजस्व विभाग की टीम ने रतौड़ा पहुंचकर मा गिरिजा स्टोन क्रशर पर छापे के दौरान मानक से अधिक मात्रा में उपखनिज पकड़ा गया। क्रशर स्वामी पर 3.28 लाख रुपया जुर्माना लगाया गया। बाद में बैजनाथ स्टोन पर 2.75 व बेतालघाट स्थित बाबा स्टोन क्रशर में भी अनियमितता पकड़े जाने पर 2.73 लाख रुपये जुर्माना लगाया गया। सेठी क्षेत्र में पट्टा स्वामी डीपीएस रावत के उपखनिज पट्टों की नाप जोख की गई। यहा भी गड़बड़ी पर 2.51 लाख रुपये जुर्माना लगया गया। छापे के दौरान तय मात्रा से अधिक उपखनिज ले जा रहे दो डंपरों का चालान भी काटा गया। एसडीएम गौरव के अनुसार रिपोर्ट डीएम को भेज दी गई है। टीम में राजस्व उपनिरीक्षक भुवन चंद्र जोशी, प्रवीण ह्याकी आदि शामिल रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस