जागरण संवाददाता, बागेश्वर : डीएम रंजना राजगुरु ने लंबित वन भूमि हस्तांतरण की समीक्षा की। उन्होंने पीएमजीएसवाई, लोनिवि बागेश्वर और कपकोट डिविजन की सड़कों की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सड़कों का निर्माण जल्द से जल्द पूरा किया जाए। डीएम ने बताया कि लोनिवि बागेश्वर डिविजन में 28 प्रकरण ऑनलाइन हो गए हैं। 11 सड़कों को सैद्धांतिक स्वीकृति भी मिल गई है। एक सड़क विधिवत स्वीकृत है।

नौ सड़कों पर सैद्धांतिक स्वीकृति को भेजा गया है। उन्होंने अफसरों को सड़कों को सैद्धांतिक स्वीकृति के लिए आख्या प्रेषित करने के निर्देश दिए। डीएम ने गहरी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने अधिशासी अभियंता को कड़े निर्देश दिए कि वे अपनी कार्यप्रणाली में सुधारी लाएं। स्वीकृत सड़कों का निर्माण शुरू कराएं। मुआवजा भी तत्काल वितरित किया जाए। कहा कि कार्यों में लापरवाही होने पर गम्भीरता से लिया जायेगा किसी भी दशा में लापरवाही होने पर नही बक्शा जायेगा। बैठक में सीडीओ एसएसएस पांगती, प्रभागीय वनाधिकारी आरके ¨सह, ईई एमसी शर्मा, राजेन्द्र प्रसाद, पंकज कुमार आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran