वाराणसी, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में जल्द ही युवा इलेक्ट्रानिक वस्तु के कलपुर्जा बनाना भी सीखेंगे। इसके लिए यहां स्थित एमएमएमई के टेक्नोलाजी सेंटर में सीएनसी (कंप्यूटर न्यूमेरिकल कंट्रोल) मिलिंग मशीन कोर्स शुरू होने वाला है। इसके लिए यहां पर कई आधुनिक मशीनें भी मंगा ली गई है। जल्द ही इस सेंटर एवं कोर्स का उद्घाटन होने वाला है। वैसे यहां के एमएसएमई स्कूल में करीब पांच हजार युवा मोबाइल, टीवी, एसी, फ्रीज आदि रिपेयर करने का प्रशिक्षण पाए हैं।

एमएमएमई के टेक्नोलाजी सेंटर के कस्टोडियन हिमांशु शेखर बताते हैं कि सीएनसी का नया कोर्स जल्द ही यहां पर शुरू होने वाला है। यह कोर्स छह माह का होगा। इसमें दाखिले की योग्यता 10वीं पास होगी। इसके लिए मशीनें मंगा ली गई है। इसके साथ ही चांदपुर में स्थित एमएसएमई सैमसंग टेक्निकल स्कूल इंडो डेनिश टूल रूम जमशेदपुर की शाखा 2014 से ही चल रही है। इसका उद्घाटन तत्कालीन एमएसएमई मंत्री कलराज मिश्रा ने किया था। यह प्रशिक्षण संस्थान दक्षिण कोरिया की कंपनी सैमसंग के साथ भी ओएमयू हस्ताक्षर किया है।

इसमें बेरोजगार व अकुशल युवाओं के लिए आधुनिक संस्थान में आधुनिक मशीनों से परिपूर्ण वर्कशाप तथा तकनीकी से भरे प्रयोगशाला भी है। बताया कि इलेक्ट्रानिक क्षेत्र से संबंधित मोबाइल फोन रिपेयरिंग कोर्स ( 3 माह ), टीवी व होम थिएटर रिपेयरिंग कोर्स ( 3 माह), एसी, फ्रीज, वाशिंग मशीन, माइक्रोवेव ओवन, एयर प्यूरीफायर रिपेयरिंग कोर्स (4 माह) संचालित किया जा रहा है। इसके अलावा सीएनस का कोर्स नए वर्कशाप में शुरू होने वाला है।

Edited By: Abhishek Sharma