जागरण संवाददाता, चंदौली: प्रदेश सरकार द्वारा पीपीपी माडल के तहत संचालित हेरिटेज 100 शैय्यायुक्त मुख्यालय स्थित मातृ व शिशु विंग में एक महिला ने एक साथ तीन बच्चों को जन्म दिया। सोमवार को चिकित्सकों की टीम ने मां व बच्चों के स्वास्थ्य की जांच की। अब चारों सुरक्षित हैं। हां, नवजात शिशुओं का वजन में एक से डेढ़ किग्रा का अंतर जरूर है।

शहाबगंज विकास खंड के हड़ौरा गांव निवासी सोनू पांडेय की पत्नी सुशीला को प्रसव होने पर चार अगस्त को यहां भर्ती कराया गया था। इसके बाद स्त्री व प्रसूति रोग विशेषज्ञ डा. आस्था, डा. आनंद व डा. युसूफ की देखरेख में सुशीला का आपरेशन किया गया। चिकित्साधीक्षक डा. केसी सिंह ने बताया कि एक दिन बाद यानी पांच अगस्त की सुबह 10 बजकर 20 मिनट पर सुशीला ने पहले बच्चे को जन्म दिया। पांच-पांच मिनट के अंतराल पर दो अन्य को भी मां ने सर्जरी के जरिए जन्म दिया। शुरुआत में मां की सेहत कमजोर जरूर हुई, लेकिन अब वह अपने बच्चों के साथ बिल्कुल स्वस्थ हैं।

Edited By: Saurabh Chakravarty