वाराणसी, जेएनएन। मौसम का रंग कुछ इस तरह इन दिनों बदला हुआ है कि धूप छांव और बारिश का दौर रह रहकर जारी है। बुधवार की देर शाम छह बजे के बाद आसमान में छाए काले बादलों ने बारिश से पूरे शहर को तर बतर कर दिया। तेज हवाओं के साथ शुरू हुई बारिश ने इस तरह असर दिखाया कि लोग बारिश की मार से इधर उधर बचते नजर आए।

पूर्वांचल में मौसम के अजब रंग इन दिनों देखने को मिल रहे हैं। दिन भर उमस के बीच मंगलवार की रात से जो बारिश शुरू हुई वह आधी रात के बाद भी जारी रही। बारिश हाेने की वजह से उमस में कमी और तापमान में भी कमी दर्ज की गई। जबकि बुधवार की सुबह दोबारा आसमान में बादलों की आवाजाही और धूपछांव के मेल की वजह से उमस का स्‍तर भी बढ़ गया है। 

दोपहर बाद मीरजापुर के हलिया में हो रही झमाझम बारिश से किसानों के चेहरे खिल उठे। जबकि वाराणसी में दोपहर त‍क बादलों की आवाजाही रही और शाम को चटख धूप होने से उमस और गर्मी से लोग पसीना पसीना होते रहे। 

बीते चौबीस घंटों में अधिकतम तापमान 35.5 डिग्री दर्ज किया गया जो सामान्‍य से दो डिग्री अधिक था। जबकि न्‍यूनतम पारा 26 डिग्री दर्ज किया गया जो सामान्‍य रहा। जबकि इस दौरान आर्द्रता अधिकतम 81 और न्‍यूनतम 65 फीसद दर्ज की गई। मौसम विभाग की ओर से जारी सैटेलाइट तस्‍वीरों के अनुसार देश भर में मानसूनी बादलों की सक्रियता बनी हुई है। 

मौसम विज्ञानियों के अनुसार पूर्वांचल के वातावरण में पर्याप्‍त नमी बनी हुई है जिसकी वजह से उमस के बाद बादल बारिश भी करा रहे हैं। वातावरण में नमी का स्‍तर बढ़ते ही बादल पर्याप्‍त बारिश करा रहे हैं जिससे लोगों को थोड़ी राहत भी मिल रही है। माना जा रहा है कि औसत बारिश इस मानसूनी सत्र में हो रही है जिससे आगे भी यही हाल होने की उम्‍मीद है। हालांकि अगले पखवारे से तापमान में भी कमी आने की उम्‍मीद है। 

Posted By: Abhishek Sharma

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस