सोनभद्र, जेएनएन। बिहार में विधान सभा चुनाव का बिगुल बजने के बाद जिले में सीमावर्ती क्षेत्रोंं में सतर्कता बढ़ा दी गई है। पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव के नेतृत्व में शुक्रवार को फोर्स ने लीलासी गांव से लगे जंगलोंं में कांबिंग की और फिर जनचौपाल में लोगोंं की समस्या सुनी। एसपी ने आने वाले ग्राम पंचायत चुनाव में चुनाव मैदान में उतरने वालों को आगाह भी किया।

एसपी ने लीलासी में कहा कि पिता के बनाए नियमोंं से घर व परिवार का संचालन होता है। उसी तरह समाज एवं देश को चलाने के लिए जो नियम बनाए गए हैं, उन्हीं को हम कानून कहते है। पुलिस का कार्य बनाए गए नियमोंं का पालन कराना होता है। कांबिंग के बाद आयोजित जन चौपाल में एसपी ने जन संवाद कर ग्रामीणोंं की समस्या जानी। कहा कि वे अपनी समस्या थाना सर्किल स्तर पर हल न हो पाए तो बे झिझक चुर्क कार्यालय आकर बताएं। लीलासी पर बीते वर्षों में जो नक्सल गतिविधियोंं का धब्बा लगा है उसे घुलने का कार्य वर्तमान पीढ़ी करें। विकास की मुख्य धारा से जुड़ें। आगामी ग्राम प्रधान चुनाव के संबंध में आगाह किया कि वर्तमान प्रधान एवं पूर्व प्रधान व भावी प्रधान प्रत्यासी चुनाव के दौरान ऐसी स्थिति कतई उत्पन्न न करें कि एक गुट दूसरे गुट के खून का प्यासा बन जाए। इस प्रकार की हरकत करने वाले प्रत्याशी न तो चुनाव लड़ पाएंगे और न ही चैन से घर या गांव में रह सकेंगे। ऐसे लोगोंं से सख्ती से निपटा जाएगा। जन चौपाल में सीओ दुद्धी रामाशीष यादव ने संबोधित किया। इस मौके पर राजा चंडोल इंटरमीडिएट कालेज के प्रधानाचार्य जयंत, कोतवाल दुद्धी पंकज सिंह, बीजपुर थाना प्रभारी श्याम बहादुर यादव, इंस्पेक्टर विंङढमगंज बृजमोहन सरोज तथा इंस्पेक्टर म्योरपुर अजय कुमार सिंह, ग्राम प्रधान ब्रह्मदेव प्रसाद, प्रधान लीलासी बलराम सहित मौजूद रहे।

 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप