जौनपुर, जेएनएन। क्षेत्र में कई दिनों से थानागद्दी पुलिस चौकी में एक आरोपित की लाठी से पिटाई का वायरल वीडियो चर्चा का विषय बन गया। इससे पुलिस की कार्य प्रणाली से लोगों में आक्रोश भी व्याप्त हो गया है। वायरल वीडियो में एक युवक को तीन पुलिसकर्मी खम्भे से लगाकर पकड़े हुए हैं और एक पुलिसकर्मी उसे बेरहमी से पीट रहा है। युवक बचाने की और न मारने की गुहार लगा रहा है, लेकिन पुलिस की पकड़ में पिटते हुए वह बेबस नजर आ रहा है।

पुलिस चौकी के अंदर के वायरल वीडियो के संबंध में बताया जा रहा है‌ कि युवक एक विशेष समुदाय का थानागद्दी बाजार निवासी है। कुछ सरहंग किस्म के लोगों से कहासुनी‌ होने पर युवक फरियाद करने थानागद्दी चौकी पर गया था, लेकिन सरहंगों की शह पर चौकी इंचार्ज ने उसके साथ ऐसा बर्ताव किया। बताया गया कि चौकी में कुछ दिन पहले भी एक युवक को नंगा करके पीटा गया था‌। युवक ने इसकी शिकायत एएसपी के यहां की थी।

युवक ने बताया था कि जमीनी विवाद को लेकर सरहंगों की शह पर उसे चौकी में नंगा करके पीटा गया और चौकी इंचार्ज ने उसका वीडियो बनाया कर उसे वायरल करने की धमकी देकर उसे चुप करा दिया था‌। शिकायत के बाद पुलिस के अधिकारियों द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई तो युवक शांत हो गया। इस संबंध में पूछने पर पुलिस उपाधीक्षक सुशील कुमार ने बताया कि चौकी इंचार्ज त्रिवेणी सिंह की इस प्रकार की कई शिकायत मिली हैं। बताया कि इस मामले में जांच कर कार्रवाई जाएगी।

खुद के अपराध छिपाने को पुलिस का नया फंडा

पुलिस के खुद के किए अपराध्‍ा को छिपाने का नया फंडा नंगा करके मारने पीटने का वीडियो बनाकर वायरल करने की धमकी के तौर पर सामने आया है। पुलिस जहां अारोपित की पीट रही है वहीं पीटने के बाद कोई मुकदमा न करने का मामला सामने आने के बाद पुलिस की मंशा स्‍पष्‍ट है।

पुलिस अधीक्षक ने की कार्रवाई

पुलिस अधीक्षक जौनपुर की ओर से सोशल मीडिया में वायरल वीडियो के बाद मंगलवार की सुबह जागरण डाट काम पर खबर चलते ही चौकी इंचार्ज के खिलाफ कार्रवाई करनी पड़ी। आनन फानन जिले के आधिकारिक सोशल मीडिया एकाउंट से इस बाबत कार्रवाई को लेकर सूचना भी जारी की।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस