वाराणसी, जेएनएन। लंका थाना क्षेत्र के नगवां शिवपुरी कॉलोनी के रहने वाले डॉ गौरव ओझा दिल्ली एम्स में कोरोना योद्धा के रूप में कार्य कर रहे हैं। मंगलवार को उन्होंने इंस्पेक्टर लंका भारत भूषण तिवारी को मैसेज किया कि मेरी दो वर्षीय भांजी सौभाग्या का जन्मदिन है । उसके पिता भी आसनसोल में डॉक्टर हैं और लॉकडाउन के कारण फंसे हैं । सौभाग्या अपनी मां के साथ यहां ही रह गयी। जन्मदिन पर वह अपने पापा और मामा को मिस कर रही है। अगर उसके लिए केक और कुछ गिफ्ट की व्यवस्था हो जाती तो वह खुश हो जाती। उसके रुपये हम ऑनलाइन ट्रांसफर कर देंगे।

लंका इंस्पेक्टर भारत भूषण ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ रहे योद्धा डॉ गौरव से कहा कि आपकी भांजी का जन्मदिन पुलिस की ओर से मनाया जाएगा। इंस्पेक्टर लंका और उनकी टीम केक और गिफ्ट लेकर सौभाग्या के पास उसके मामा के घर पहुंच गए। इंस्पेक्टर ने सौभाग्या को बताया कि आपके पापा और मामा ने आपके लिए यह सब भेजा है इसके बाद तो नन्ही परी की खुशी का ठिकाना नहीं रहा और उछल पड़ी। खुद से पुलिस और टीम ने घर के बाहर टेबल पर केक रखकर गुब्बारों को सजाने के बाद कैंडल जलाकर सौभाग्या का जन्मदिन मनाया। भारत भूषण तिवारी बताया कि कोरोना योद्धा डॉ गौरव देश की सेवा में लगे हैं और बेटी के पिता भी यहां नही है अगर वो लोग होते तो जन्मदिन अच्छे से मनाते। कोरोना योद्धाओं के घर-परिवार के लोगों के लिए हम अगर कुछ करके खुशियां दे सकें तो ये हमारा सौभाग्य है।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस