वाराणसी, इंटरनेट डेस्‍क। मौसम विभाग की ओर से जारी सैटेलाइट तस्‍वीरों के अनुसार पूर्वांचल की ओर बादलों की सक्रियता का रुख बना हुआ है। वातावरण में लगातार बरकरार उमस और बढ़ते तापमान की वजह से लोग भी खूब पसीना - पसीना हो रहे हैं। मौसम विभाग ने लोकल हीटिंग की वजह से बादल और बूंदाबांदी का अंदेशा जाहिर किया है। वहीं तापमान इस माह सबसे अधिक करीब 40 डिग्री के आसपास होने से गर्मी और उमस का दंश लोग झेलने को विवश हैं। मौसम विज्ञानियों ने इससे पूर्व भी तापमान और उमस में इजाफा का संकेत दिया था।

लोकल हीटिंग के असर से बादल बनने का क्रम भी शुरू हो चुका था। उम्‍मीद के मुताबिक हीबादलों की सक्रियता और बूंदाबांदी का दौर पूर्वांचल के कई इलाकों में शुरू हो गया। सुबह से आजमगढ़ और मऊ के कई इलाकों में बूंदाबांदी से मौसम का रुख बदला है। वहीं अन्‍य जिलों में भी कई इलाकों में बादलों की सक्रियता का दौर शुरू हो चुका है। जबकि वाराणसी के अंचलों में दोपहर दो बजे के बाद कई क्षेत्राें में बूंदाबांदी और तेज हवाएं चलीं। इसके बाद लोगों को गर्मी और उमस से राहत मिल गई।  

शनिवार की सुबह आसमान साफ रहा और सुबह पांच बजे तक वातावरण में ठंडक का कुछ असर रात से बना रहा। इसके बाद आसमान में सूरज के नजर आने के बाद से ही उमस और गर्मी में लगातार इजाफा होता चला गया। सुबह सात बजे के बाद धूप का असर हुआ और चटख धूप के असर से लोग पसीना पसीना भी खूब हुए। सुबह सात बजे से उमस का असर लू सरीखा अहसास कराने लगा। माना जा रहा है कि अब बादलों की सक्रियता का दौर आने ही वाला है। मौसम विभाग की ओर से जारी सैटेलाइट तस्‍वीरों में पूर्वांचल के आसपास बादलों की आवाजाही का क्रम बना हुआ है। पुरवा हवाओं का रुख बना रहा तो दोपहर बाद तक ठंडी हवाओं के साथ बादलों की आमद हो सकती है।   

बीते चौबीस घंटों में अधिकतम तापमान 39.0 डिग्री सेल्सियस तापामन दर्ज किया गया जो सामान्‍य से पांच डिग्री अधिक रहा। न्‍यूनतम तापमान 27.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्‍य से एक डिग्री अधिक रहा। आर्द्रता अधिकतम 66 फीसद और न्‍यूनतम 48 फीसद दर्ज किया गया। मौसम विज्ञानियों के अनुसार आने वाले सप्‍ताह भर में मौसम की तल्‍खी से राहत मिल जाएगी। इसी के साथ वातावरण में मौजूद उमस और गर्मी से भी राहत मिलेगी। मौसम विभाग ने इस पूरे सप्‍ताह बादलों की सक्रियता का अंदेशा जाहिर किया है। इस समय वातावरण में नमी की कमी है लेकिन लोकल हीटिंग का असर बना हुआ है। 

Edited By: Abhishek Sharma