वाराणसी, जेएनएन। भेलूपुर थाना क्षेत्र के बजरडीहा में शनिवार की रात इरशाद की हत्या लेनदेन के विवाद में हुई थी। पुलिस ने इस मामले में आरोपित नट्टू जायसवाल निवासी खोजवां को भवनिया पोखरी के पास से सोमवार को गिरफ्तार किया है। हत्या आरोपित की निशानदेही पर पुलिस ने चौभड़वा पोखरे से वारदात में प्रयुक्त दो ईंट व पत्थर बरामद किया है।

पुलिस की पूछताछ में आरोपित ने बताया की कुछ दिन पूर्व चोरी में पकड़े जाने के बाद से जेल में था। लॉकडाउन मेें पैरोल पर करीब एक माह पहले छूटा है। खोजवां में मेरा मकान बिक चुका है और रहने- खाने का कोई इंतजाम नहीं है और मेरा कोई परिवार भी नहीं है। नशे की लत को पूरी करने के लिए वह चोरी करने लगा। पैरोल से बाहर निकला तो बाबा कीनाराम आश्रम के पास रहने लगा जहां उसकी मुलाकात इरशाद से हुई जो बजरडीहा का रहने वाला था। वह भी उसकी तरह नशा करता था उसे भी अपने परिवार से कोई मतलब नहीं था। दोनों साथ रहने लगे। इसी बीच उन्होंने खोजवा में एक सब्जी वाले का मोबाइल चोरी किया। उसके बंटवारे को लेकर झगड़ा हुआ था और इरशाद ने उस मोबाइल को तोड़ दिया था। जेल से बाहर निकलने पर आरोपित के पास से 15 सौ रुपये थे जिसमें से आठ सौ रुपये इरशाद ने चुरा लिए था और मांगने पर नहीं दे रहा था। इस बात से नाराज होकर चौभड़वा पोखरी गया और उसे नशा करा कर ईंट-पत्थर से उसके सिर व मुंह पर कई बार प्रहार किया जिससे उसकी मौत हो गई थी। उधर, इरशाद के बड़े भाई नुरुल हक ने कहा कि उनकी मां कौसर जहां उनके साथ रहती हैैं। उनकी दूसरी शादी की बात गलत है।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस