वाराणसी, जेएनएन। ग्रामीण क्षेत्राें में टीकाकरण की दर बढ़ाने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने 21 जून को क्लस्टर स्पेशल केंद्रों की शुरुआत की थी। पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर तीन ब्लाकों में 43-43 टीकाकरण केंद्र पर तीन दिन में 14275 लाभार्थियों को प्रतिरक्षित किया जाना था, लेेकिन 11371 को ही टीका लग पाया। स्वास्थ्य महकमे की तमाम कोशिशों से पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर तीनों ब्लाकों के 79.65 फीसद लोगों को प्रतिरक्षित किया गया।

क्लस्टर स्पेशल तीन ब्लाकों के 43 केंद्रों पर अंतिम दिन 4039 लाभार्थियों ने टीका लगवाया। इसमें ठठरा-सेवापुरी में 1711, औसानपुर-हरहुआ में 1178 व लखीमपुर-बड़ागांव में 1150 लोगों का टीकाकरण किया गया। पहले दिन खालिसपुर-सेवापुरी में 1586, भटौली-हरहुआ में 1108 एवं मलहाथ-बड़ागांव में 890 जबकि दूसरे दिन खालिसपुर-सेवापुरी में 1303, भटौली-हरहुआ में 1439 एवं मलहठ-बड़ागांव में 1006 लोगों को प्रतिरक्षित किया गया था।

15241 लाभार्थियों ने लगवाया कोरोना टीका

जनपद में विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रों पर बुधवार को 171 टीकाकरण सत्र आयोजित कर 15241 लाभार्थियों को प्रतिरक्षित किया गया। इसमें 18 से 44 वर्ष तक के 9770 एवं 45 वर्ष से अधिक उम्र के 5471 लाभार्थी शामिल थे। वहीं तीन अभिभावक स्पेशल केंद्रों पर 310 एवं दो महिला स्पेशल केंद्रों पर केवल 44 लाभार्थियों ने कोरोना टीका लगवाया। रजिस्ट्रेशन कराने वालो लाभार्थी सुबह से ही सुविधानुसार टीकाकरण केंद्रों पर पहुंचते रहे और टीका लगवा कर खुद को प्रतिरक्षित कराते रहे। सीएमओ डा. वीबी सिंह ने बताया कि 14336 लाभार्थियों को प्रथम डोज, जबकि 906 को दूसरी डोज का टीका लगाया गया। 18 से 44 वर्ष वालों के लिए 55 सत्र आयोजित किए गए थे। इनमें 9693 लाभार्थियों को प्रथम एवं 77 को दूसरी डोज का टीका लगाया गया।

गुरुवार को 131 केंद्रों पर लगवाएं कोरोना टीका

टीकाकरण महाअभियान के क्रम में गुरुवार को 131 केंद्रों पर टीकाकरण सत्र आयोजित किया जाएगा। 45 वर्ष से अधिक उम्र के लाभार्थियों के लिए 76 व 18 से 44 वर्ष के लोगों के लिए 55 केंद्र बनाए गए हैं। जिला महिला चिकित्सालय-कबीरचौरा व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र आराजीलाइन पर महिला स्पेशल एवं अर्बन सीएचसी शिवपुर, एसएसपीजी हास्पिटल कबीरचौरा व एसवीएम हॉस्पिटल भेलूपुर में अभिभावक स्पेशल केंद्र आयोजित होंगे। अभिभावक स्पेशल एवं महिला स्पेशल केंद्रों पर 18 से 44 वर्ष तक के ही लाभार्थी प्रतिरक्षित किए जाएंगे।

 

Edited By: Saurabh Chakravarty