वाराणसी, जेएनएन। राष्ट्रीय आविष्कार अभियान के तहत परिषदीय विद्यालयों में अब विज्ञान-गणित लैब की भी सुविधा होगी। गणित लैब के लिए प्रत्येक ब्लाक से तीन-तीन उच्च प्राथमिक विद्यालय का चयन किया गया है। जबकि विज्ञान लैब के लिए प्रत्येक ब्लाक के दो-दो उच्च प्राथमिक विद्यालय चयनित किए गए हैं।

 बीएसए जय सिंह ने बताया कि जनपद के नौ ब्लाकों के 27 उच्च प्राथमिक विद्यालयों में गणित लैब विकसित किया जाएगा। इसके लिए 2594 रुपये प्रत्येक विद्यालय के प्रबंध समिति के खाते में प्रेषित किया जा चुका है। प्रबंध समिति को ज्यामिति बाक्स, जियो बोर्ड (वृत्ताकार व वर्गाकार), दीवार घड़ी, बड़े आकार के पासे, प्लास्टिक ग्राफ चार्ट, गणितीय खेल, मापन का कम, नकली करेंसी नोट सहित अन्य आवश्यक सामग्री सात दिनों के भीतर क्रय करने का निर्देश दिया गया है।

 इसी प्रकार विज्ञान लैब नौ ब्लाक के 18 उच्च प्राथमिक विद्यालयों को विकसित किया जाएगा। इसके लिए 2500 रुपये उच्च प्राथमिक विद्यालयों के प्रबंध समितियों को दिया जा चुका है। इस राशि में विज्ञान लैब में प्रयोग आने वाली सामग्री क्रय करने का निर्देश दिया गया है। इसमें परखनली, बीकर, कीप, स्प्रिट लैंप, स्पाट वाच डाक्टरी तापमापी, विद्युत घंटी, दंड चुंबक, चुंबकीय सूई, निद्रव दाबमापी, प्लास्टिक का हृदय, कंकाल, तंत्र, फेफड़ा सहित अन्य सामग्री शामिल है।

Posted By: Saurabh Chakravarty

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप