वाराणसी, जेएनएन। घरेलू विमान सेवाएं प्रारंभ होने से पहले नागर विमानन मंत्रालय ने यात्रियों के लिए महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश जारी किए हैं। जिनका पालन हवाई यात्रा करने वाले सभी यात्रियों को करना पड़ेगा। शर्तों को पूरा नहीं करने पर विमान यात्री को एयरपोर्ट के टर्मिनल भवन में प्रवेश करने नहीं दिया जाएगा। आदेश का पालन कराने के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों को निर्देश दिया गया है। वहीं, कर्मचारियों ने खुद इसका पालन करना शुरू कर दिया है जिससे यात्रियों को सवाल करने का मौका नहीं मिले।

मंत्रालय ने कहा है कि अस्वस्थ व्यक्ति और गर्भवती महिलाएं हवाई यात्रा न करें। यदि यात्रा के दौरान उनके शरीर का तापमान अधिक मिलता है तो उनको टर्मिनल भवन में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। हवाई यात्रा करने के लिए एयरपोर्ट पहुंचने वाले सभी यात्रियों को मास्क लगाना जरूरी है और उनके मोबाइल में आरोग्य सेतु एप इंस्टाल होने के साथ अपडेट होना चाहिए। ऐसा नहीं हो कि एप लोड करने के बाद उसे कभी देखा नहीं गया हो। विमान यात्रा में दिए गए समय से दो घंटे पहले ही यात्री एयरपोर्ट पर पहुंचे जिससे जांच सहित अन्य प्रक्रिया पूरी करने में कोई दिक्कत नहीं हो।

केवल दो बैग की ही है अनुमति

हवाई यात्रा करने वाले यात्री को केवल दो ही बैग ले आने और लाने की अनुमति दी गई है, एक चेक-इन बैग होगा और दूसरा केबिन बैग। इससे अधिक सामान ले जाने पर उसे रोक दिया जाएगा। ऐसे में आवश्यक सामान को ही लेकर हवाई यात्रा करें।

एयरलाइंस द्वारा दिया जाएगा सेफ्टी किट

एयरपोर्ट पर पहुंचने वाले यात्रियों को जांच के उपरांत टॢमनल भवन में एयरलाइन कंपनियों द्वारा सेफ्टी किट दिया जाएगा। इसके लिए यात्री जब विमानन कंपनी के बोॄडग गेट पर पहुंचेंगे तो वहां एक घोषणा पत्र भरने के बाद उनको एयरलाइंस द्वारा सेफ्टी किट दिया जाएगा। जिसमें फेस शिल्ड, 3 लेयर युक्त सॢजकल मास्क और सैनिटाइजर रहेगा।

शौचालय का कम करना होगा इस्तेमाल 

यात्रियों को कम से कम शौचालय का इस्तेमाल करने की सलाह दी गई है। किसी भी परिवार के साथ एक ही बुजुर्ग और बच्चे हों, जिससे शौचालय में भीड़ नहीं हो। एयरपोर्ट पर अपने सामान को देखने के साथ छूटने से बचें। ऐसा करने से आप खुद सुरक्षित रहेंगे और अन्य लोगों को भी सुरक्षित रखेंगे।

विमान में पढऩे और खाने के सामान नहीं मिलेंगे

हवाई सफर के दौरान विमान में बैठे यात्रियों को किसी प्रकार का खाद्य पदार्थ नहीं दिया जाएगा। इतना ही नहीं विमान में समाचार पत्र-पत्रिकाएं भी नहीं रखी जाएंगी। हवाई यात्रा के दौरान यदि कोई यात्री असहज महसूस करेंगे या किसी प्रकार की समस्या होगी तो तत्काल क्रू मेंबर को बताना पड़ेगा।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस