वाराणसी, जेएनए। यूपी बोर्ड के हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षा 18 फरवरी से शुरू होगी। इस दौरान  नकल रोकने के लिए शासन, जिला प्रशासन व शिक्षा विभाग संयुक्त रूप से जुटा है। परीक्षा की ऑनलाइन निगरानी के लिए पहली बार वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है। वहीं ग्रामीण क्षेत्र के परीक्षा केंद्रों पर बिजली आपूर्ति व इंटरनेट की कनेक्टिविटी को लेकर वेबकास्टिंग  चुनौती बनी हुई है।

ट्रायल में जुटा रहा शिक्षा विभाग

शिक्षा विभाग की टीम सोमवार को  क्वींस कालेज में बने ऑनलाइन जनपदीय कंट्रोल रूम मेंं ट्रायल में जुटी थी। यह कवायद परीक्षा में वेबकास्टिंग सुचारू हो, इसके लिए की गई। हालांकि वेबकास्टिंग में कोई समस्या नहीं आने की गारंटी लेना असंभव ही है। ऐसे में परीक्षार्थियों के संग वेबकास्टिंग की भी परीक्षा होनी है।

मुख्य सचिव ने लिया जायजा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व उपमुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा की भी निगाहें बोर्ड परीक्षाओं पर टिकीं हैं।  मुख्य सचिव आरके तिवारी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग कर परीक्षा की तैयारियों का हाल जाना। शुचिता पूर्वक परीक्षा कराने के लिए एटीएफ व एलआइयू को भी अलर्ट किया गया है। दोनों इकाइयों को परीक्षा केंद्रों की सूची व टाइम टेबल  दिया गया है। संवेदनशील केंद्र एसटीएफ के रडार पर हैं। बोर्ड के अधिकारियों ने नकल रोकने के पुख्ता इंतजाम का दावा किया है। वेबकास्टिंग के माध्यम से परीक्षा की ऑनलाइन निगरानी के लिए राज्य स्तर पर लखनऊ में कंट्रोल रूम बना है।

त्रिस्तरीय सचल दस्ता

बोर्ड के क्षेत्रीय कार्यालय व मंडल स्तर पर तीन-तीन तथा जिला स्तरीय पांच सचल दस्ते बनाए गए हैं। डीआइओएस डा. वीपी सिंह ने बताया सभी केंद्रों पर आंतरिक सचल दस्ता के गठन का भी निर्देश है। जिले के तीनों संवेदनशील केंद्रों पर पर्यवेक्षक तैनात किए गए हैं।

पांच जोन व 18 सेक्टर

परीक्षाओं में नकल पर नकेल के लिए जिले में पांच जोन व 18 सेक्टर बनाकर जोनल और सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं। केंद्राध्यक्षों को परीक्षार्थियों की तलाशी गेट पर ही करने का निर्देश दिया गया है। हालांकि यह भी ताकीद किया गया है कि जांच के नाम पर परीक्षार्थी आतंकित न किए जाएं। उनको जूते-मोजे उतार कर परीक्षा  के लिए कतई विवश न किया जाए।

मोबाइल फोन व अन्य इलेक्ट्रानिक्स सामानों पर विशेष नजर रखने का निर्देश दिया गया है। मोबाइल कक्ष निरीक्षकों के लिए भी प्रतिबंधित है। 

हर पन्ने पर लिखना होगा अनुक्रमांक

कापियों की हेराफेरी रोकने के लिए इस वर्ष बोर्ड ने सीरियल नंबरयुक्त सादी उत्तरपुस्तिकाएं जारी किया है। वहीं परीक्षार्थियों के कापी के हर पन्ने पर अनुक्रमांक के साथ सीरियल नंबर भी लिखना होगा।

हर केंद्र पर तैनात रहेगी पुलिस

परीक्षा शुरू होने से आधा घंटा पहले हर केंद्र पर दो पुलिस कर्मी पहुंचेंगे। वे परीक्षा समाप्ति के आधा घंटा बाद तक रहेंगे।

फर्जी परीक्षार्थियों पर कड़ी नजर

परीक्षा में फर्जी परीक्षार्थियों के भी शामिल होने की शिकायत हर वर्ष मिलती है। इसे देखते हुए सभी कक्ष निरीक्षकों को प्रवेश पत्र से परीक्षार्थियों की फोटो के मिलान का निर्देश दिया गया गया। यदि किसी केंद्र पर फर्जी परीक्षार्थी मिले तो संबंधित कक्ष निरीक्षक पर कार्रवाई की जाएगी।

डेस्क स्लिप चस्पा

परीक्षा के एक दिन पहले केंद्रों पर डेस्क स्लिप चस्पा करने का काम देरशाम तक चलता रहा। वहीं तमाम परीक्षार्थी भी केंद्र देखने पहुंच रहे थे।

दस कैदी भी परीक्षार्थी

हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षा में दस कैदी भी शामिल हो रहे हैं। इसमें तीन हाईस्कूल व सात इंटर के परीक्षार्थी हैं। इसे देखते हुए केंद्रीय कारागार को भी केंद्र बनाया गया है।

खुला कंट्रोल रूम

नकल रोकने के लिए मंडल व जनपद स्तर पर अलग-अलग कंट्रोल रूम खोले गए हैं। कंट्रोल रूम में कोई भी फोन कर परीक्षा की गड़बड़ी के बारे में सूचना दे सकता है। सूचना देने वाले व्यक्ति की पहचान गोपनीय रखी जाएगी। डीआइओएस कार्यालय में बना कंट्रोल रूम 24 घंटे काम करेगा। इस कंट्रोल रूम का  फोन नंबर -0542 2509413 है। वहीं क्वींस कालेज के कंट्रोल रूप का नंबर 0542- 2200038 व 2987844 है। शिकायत व समस्याओं की जानकारी ई-मेल से भी देने संभव है। 

पर क्षा की कमान 3900

कक्ष निरीक्षकों पर

जनपद के 143 केंद्रों पर हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के 108655 परीक्षार्थियों की परीक्षा के लिए 3900 कक्ष निरीक्षक तैनात किए गए हैं। सभी शिक्षकों को अनिवार्य रूप से परीक्षा ड्यूटी करने का निर्देश है।

संवेदनशील केंद्र : विमला देवी इंटर कालेज (मोकलपुर), तुलसी दास इंटर कालेज (अनेई) व ग्राम विद्यापीठ इंटर कालेज (गड़खरा)

पांच वर्षों का तुलनात्मक विवरण

वर्ष     परीक्षार्थी   केंद्र

2016     131718    145

2017     125942     165

2018     116296     143

2019     109140     150

2020     108655     143

आज होने वाली परीक्षा

प्रथम पाली (सुबह आठ से 11.15 बजे तक)

हाईस्कूल : हिंदी, प्रारंभिक हिंदी

द्वितीय पाली : (दोपहर दो से शाम 5.15 बजे तक)

इंटरमीडिएट : हिंदी , सामान्य हिंदी

महत्वपूर्ण बिंदु

-हाईस्कूल व इंटर की परीक्षाएं 15 फरवरी से छह मार्च तक दो पालियों में

-परीक्षा केंद्र के 100 मीटर के दायरे में बंद रहेंगी फोटो स्टेट की दुकानें

- कक्ष निरीक्षकों के लिए फोटोयुक्त परिचय पत्र अनिवार्य

जनपद में कुल 143 केंद्र

08 राजकीय विद्यालय

68 अशासकीय विद्यालय

66 वित्तविहीन विद्यालय

01 केंद्रीय कारागार 

108655 परीक्षार्थी

57445 परीक्षार्थी हाईस्कूल में

51210 परीक्षार्थी इंटरमीडिएट में

03 केंद्र संवेदनशील

06 जोनल मजिस्ट्रेट

18 सेक्टर मजिस्ट्रेट

03 परिक्षेत्र स्तर से सचल दस्ता

03 मंडल स्तर पर सचल दस्ता

05 जनपदीय सचल दस्ता

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस