वाराणसी, जागरण संवाददाता। मिर्जामुराद में साइकिल सवार युवकों की मौत के बाद ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग को लेकर चक्काजाम कर दिया। वहीं जानकारी होने के बाद पहुंची पुलिस ने लोगों को समझा बुझाकर जाम को खत्‍म कराया। वहीं हादसे की जानकारी होने के बाद स्वजनों में कोहराम मच गया। 

कछवां-कपसेठी मार्ग पर छतेरी गांव के पास रविवार को प्रातः करीब पांच बजे तेज रफ्तार ट्रक से कुचलकर कर इरफान अली (19) व कैफ अंसारी (18) नामक साइकिल सवार युवको की मौत हो गयी। मृतक बुनकरी का काम करता थे। ट्रक के भाग जाने से आक्रोशित ग्रामीण मुआवजे की मांग को लेकर कुछ देर के लिये सड़क पर चक्का जाम भी किये। थानाप्रभारी हरिनाथ भारती ने ग्रामीणों को समझा-बुझाकर जाम समाप्त करा शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

मिर्जामुराद के छतेरी गांव निवासी स्व.जमील अहमद के तीन पुत्रो में दूसरे नम्बर का अविवाहित पुत्र रहा इरफान अली व अकबाल अंसारी का पुत्र कैफ अंसारी पावरलूम पर बुनकरी का काम करते थे। प्रातः दोनों टहलने व शौच करने के लिये साइकिल पर सवार होकर घर से निकले थे। दोनों घर से कछवांरोड चौराहा की ओर आ रहे थे कि हिंदुस्तान ढाबा के पास कछवांरोड से कपसेठी की ओर जा रहे तेज रफ्तार ट्रक ने साइकिल सवारों को टक्कर मार दी। ट्रक के पहिये के नीचे आकर कुचल जाने से इरफान की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि कैफ गंभीर रूप से घायल हो गया। धक्का मारने के बाद ट्रक चालक वाहन समेत कपसेठी की ओर भाग निकला।

जानकारी होने के बाद बुनकर के परिवार को आर्थिक मदद दिलाने की मांग को लेकर ग्रामीणों ने शव के पास चक्काजाम कर दिया। थानाप्रभारी व चौकी प्रभारी के समझाने पर जाम समाप्त हुआ। उधर, गंभीर रूप से घायल युवक को आनन- फानन एंबुलेंस की मदद से पं. दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल भेजा गया, जहां उपचार के दौरान कैफ की भी मौत हो गयी। दोनों युवकों की मौत की खबर से गांव में मातम छाने के साथ ही स्वजनों में कोहराम मच गया।

Edited By: Abhishek Sharma