आजमगढ़, जेएनएन। आजमगढ़ में सगड़ी तहसील के ग्रामसभा तुरकौली स्थित कालिकापुर के बाहे में मछली मारने के लिए गांव के ही कुछ लोगों ने रात में फंदा लगा कर छोड़ दिया था। शुक्रवार को सुबह मछली मारने वाले लोगों ने जाल को खींचा तो उसमें एक अजगर फंसा हुआ था। अजगर फंदे से बार-बार निकलने का प्रयास कर रहा था लेकिन निकल नही पा रहा था। थोड़ी देर में यह सूचना गांव में फैल गई फिर क्या देखते ही देखते मौके पर ग्रामीणों की भीड़ लग गई।

गांव के कुछ हिम्मती युवकों ने किसी तरह जाल का फंदा काट कर उसे बाहर निकाला और अजगर को बोरे में भरकर केशवपुर जंगल में छोड़ने के लिए चले गए। तुरकौली गांव के लोगों ने बताया कि इसी तरह से लगभग एक वर्ष पहले भी अजगर निकला था। जिसको बड़ी मशक्कत के बाद पकड़ कर जंगल मे छोडा गया था। फंदा लगाकर मछली मारने वालो में इस घटना को लेकर दहशत व्याप्त है।

ग्रामीणों के अनुसार मछली पकड़ने के लिए फंदा लगाया गया था। फंदे को छोड़कर वैसे ही मछली पकड़ने वाले निकल गए। जब दोबारा मछली पकड़ने के लिए आए तो फंदे में मछली की जगह अजगर को फंसा देखकर उनके होश उड़ गए। गांव वालों को इस बाबत सूचना दी गई तो किसी तरह हिम्‍मत करके अजगर को फंदे से निकालकर बोरे में भरकर गांव के लोगों ने उसे सुरक्षित जंगल में छोड़ दिया। वहीं क्षेत्र में मछली पकड़ने के फंदे में अजगर को फंसा होने की चर्चा दिन भर रही। 

Edited By: Abhishek Sharma