वाराणसी, जेएनएन। बनारस शहर की कई खबरों ने सोमवार को सुर्खियां बटोरीं। जिनमें  महंगा राशन बिकता देख भड़के DM और SSP, खोजी COVID-19 के जांच की सरल तकनीक, कामगारों को नहीं मिला ठिकाना, वेबसाइट पर e-content अपलोड आदि खबरें रहीं। जानिए शाम पांच बजे तक की शहर-ए-बनारस की पांच प्रमुख और चर्चित खबर।

Lockdown के दौरान बाजार में महंगा राशन बिकता देख भड़के DM और SSP, नौ कारोबारी गए जेल

बाजार इन दिनों अराजक कारोबारियों के हाथ में होने से आम जनता ही नही प्रशासन के लिए भी चुनौती बन गई है। इसी कड़ी में आम आदमी बनकर डीएम और एसएसपी बाजार में झोला लेकर निकले और खरीददारी करने के दौरान कालाबाजारियों को पकड़कर हवालात की हवा भी खिलाई।

BHU की महिला प्रोफेसर और तीन छात्राओं ने खोजी COVID-19 के जांच की सरल तकनीक

देश दुनिया में भयावहता का पर्याय बने कोरोना वायरस के जांच की जटिलता को नारी शक्ति ने काशी में हल कर दिया है। अब घण्टों जांच का काम एक घण्टे में हो जाएगा और रिस्क भी इसमें काफी कम है। दुनिया भर में कोरोना की भयावह स्थिति को देखते हुए बीएचयू की महिला प्रोफेसर की टीम ने महीने भर में COVID-19 की सटीक जांच करने की तकनीक खोज लिया है और इसे पेटेंट कराने की प्रकिया भी फ़ाइल कर दी है।

 Lockdown in varanasi Day 6 : परदेस भी हुआ बेगाना, कामगारों को नहीं मिला ठिकाना

दिल्ली- मुंबई समेत विभिन्न महानगरों से लौट रहे लोगों की बस एक ही इच्छा है कि किसी तरह अपने घर पहुंच जाएं। कोई 100 तो कोई 200 किलोमीटर पैदल या विभिन्न साधनों से घर के लिए निकले हैं। सबसे अधिक परेशानी परिवार के साथ निकले लोगों को रही। उन्हें पैदल चलने के साथ बच्चों को गोद में लेकर चलना पड़ रहा है। भूख अलग से मार रही है।

वाराणसी में गोमती नदी किनारे बेहोश मिली महिला, लोगों ने दुष्कर्म की जताई आशंका

दानगंज में चोलापुर थानान्तर्गत अजगरा चौकी क्षेत्र के रजला गांव में गोमती नदी के किनारे रविवार रात्रि अज्ञात महिला बेहोशी की हालत में मिली। महिला को चोलापुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उसे शिव प्रसाद गुप्त चिकित्सालय रेफर कर दिया।

Kashi Vidyapeeth ने वेबसाइट पर e-content अपलोड, विशेषज्ञों के ऑडियो-वीडियो व्याख्यान उपलब्ध

कोरोना वायरस के संक्रमण व लॉकडाउन को देखते हुए महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ ऑनलाइन की राह पर है।  विवि की वेबसाइट पर ई- कंटेट अपलोड किया जा रहा है ताकि छात्र-छात्राएं घर बैठे ही पढ़ाई करें और कक्षाएं स्थगित होने से पठन-पाठन प्रभावित न हो।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस