वाराणसी, जेएनएन। बनारस शहर की कई खबरों ने रविवार को सुर्खियां बटोरीं। जिनमें ठंड ने पूर्वांचल में पसारे पांव, विश्व ऑस्टियोपोरोसिस दिवस, पिंकथान में महिलाओं ने लगाई दौड़, मोहल्‍लों से निकला चेहल्लुम का जुलूस, मंदिर प्रशासन उपलब्ध कराएगा डिजिटल प्लेटफार्म आदि खबरें सर्वाधिक चर्चा में रहीं। जानिए शाम पांच बजे तक की शहर-ए-बनारस की पांच प्रमुख और चर्चित खबरें।

 

कोहरा, बारिश और बादलों के बीच ठंड ने पूर्वांचल में पसारे पांव, जानिए कैसा रहेगा इस सप्‍ताह मौसम का हाल

मौसम ने शनिवार सुबह ऐसा रुख बदला कि बादलों की चादर के चलते ठंड पसर गई। सारा आसमान बादलों की कैद में रहा तो ताममान ने भी आहिस्ता से धरातल पर गोता लगा दिया। वहीं रविवार सुबह भी बारिश से धुली हुई नजर आई। दिन चढ़ने तक आकाश बादलों की कैद में ऐसा रहा कि दिन का उजाला भी ढलती शाम में बदल गया। रह रहकर हो रही बूंदाबांदी ने लोगों को घरों में कैद रखा तो सड़क पर भी लोगों की कम आमद नजर आई। वहीं शाम तक मौसम का रुख ऐसा रहा कि सूरज की किरणें बादलों को बेध नहीं सकीं।

 

विश्व ऑस्टियोपोरोसिस दिवस : आपकी कमजोर हो चुकी हड्डियों को मजबूत करेंगे आयुर्वेद के सामान्‍य घरेलू नुस्खे

उम्र बढ़ने के साथ अमूमन सभी व्यक्तियों की हड्डियां समय के साथ कमजोर होने लगती हैं। हिन्दुस्तान में हर दो में से एक स्त्री जो 45 वर्ष के पार है, वह ऑस्टियोपोरोसिस रोग से पीड़ित है। आपकी उम्र 40 से ज्यादा है और यदि आपके जोड़ों में दर्द रहता है, हड्डियों में कमजोरी महसूस होती है या धूम्रपान करते हैं, तो आप ऑस्टियोपोरोसिस से ग्रस्त हो सकते हैं। लंबे समय तक चपेट में रहने से आपको चलने फ‍िरने और दैनिक जीवन में तमाम समस्‍याएं भी हो सकती हैं। ऑस्टियोपोरोसिस हड्डियों के रोग की रोकथाम, निदान व उपचार के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए प्रतिवर्ष 20 अक्टूबर को विश्व ऑस्टियोपोरोसिस दिवस मनाया जाता है।

कैंसर के खिलाफ पिंकथान में महिलाओं ने लगाई दौड़, महिलाओं की सेहत सुधारने का उठाया बीड़ा 

देश के प्रदूषित शहरों में शुमार वाराणसी में सेहत की जागरुकता के लिए इस बार महिलाओं की सेहत सुधारने का बीड़ा उठाया गया है। आयोजन पूरे विश्व में 12 देशों में 80 शहरों में और 200 लोकेशन पर आयोजित किया जा रहा है। मिलिंद सोमन ब्राण्ड अम्बेसडर के रूप में अभियान की अगुआई कर रहे हैं। वहीं वाराणसी में अंतरराष्ट्रीय एथलीट नीलू मिश्रा ने मैदान में महिलाओं की सेहत के लिए वाराणसी अम्बेसडर बनकर मुहिम छेड़ी है। 'महिलाओं, हमें आपकी जरूरत है और परिवार को आपकी जरूरत है' यह संदेश लेकर बनारस शहर में रविवार को पिंकथान 2019 नाम से कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 

 

शहर-ए-बनारस में 'या हसन या हुसैन की गूंजी सदाएं' मोहल्‍लों से निकला चेहल्लुम का जुलूस

कर्बला के शहीदों की याद में आंसुओं का नजराना पेश करते हुए रविवार को 'मौला हक इमाम' या हसन या हुसैन' की सदाओं के बीच चेहल्लुम का जुलूस निकला। अर्दली बाजार स्थित स्व. मास्टर जहीर हुसैन के इमामबारगाह से अंजुमन इमामिया की तरफ अमारी, जुलजना, ताबूत व अलम का जुलूस निकाला गया। कदीमी रास्तों को तय करता हुआ जुलूस शाम को वापस इमामबारगाह पहुंचकर समाप्त हुआ।

श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर प्रशासन उपलब्ध कराएगा डिजिटल प्लेटफार्म, सात समुंदर पार से कर सकेेंगे पूजन और अनुष्‍ठान

डिजिटल इंडिया की पहल के बाद अब धार्मिक अनुष्‍ठान और पूजा पाठ भी अब डिजिटल होने की ओर है। पौराणिक नगरी काशी में द्वादश ज्‍योर्तिलिंगों में एक काशी विश्‍वनाथ में बाबा दरबार को अब डिजिटल करने की तैयारी है। विश्वनाथ मंदिर में पूजन-अनुष्ठान के विधान दूर देश में बैठे लोग भी पूरे कर सकेंगे। बाबा विश्‍वनाथ मंदिर प्रशासन की ओर से इसके लिए ई पूजा की व्यवस्था की जा रही है। इसके बाद विदेशों से भी आस्‍थावानों के लिए पूजन अनुष्‍ठान का रास्‍ता खुल जाएगा। जिस तरीके से तैयारियां शुरू हुई हैं उम्‍मीद है इसे इसी साल डिजिटल प्लेटफार्म के माध्यम से पूरी दुनिया के लिए उपलब्ध करा दिया जाएगा।

Posted By: Abhishek Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस