वाराणसी, जेएनएन। बनारस शहर की कई खबरों ने  गुरुवार यानी 16 जुलाई को सुर्खियां बटोरीं जिनमें कोरोना जांच मोहल्लों में, खड़ी ट्रक में रखे 80 हजार रुपये चोरों ने उड़ाए, परिवहन कार्यालय में प्रदर्शन, ट्रायल पिट से आरोपों की जांच, इस बार आर्गेनिक राखी आदि प्रमुख खबरें रहीं। जानिए शाम 7 बजे तक की शहर-ए-बनारस की पांच प्रमुख और चर्चित खबर।

वाराणसी में कोरोना जांच मोहल्लों में, इलाज घरों में ही होगा, 15 मोबाइल वार्ड क्लीनिक वाहनों को हरी झंडी

जिले में विगत 15 दिनों के अंदर कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या में हुए बढ़ोतरी को जिला प्रशासन ने गंभीरता से लेते हुए इस पर तत्काल रोक लगाए जाने की अब ठान ली है। अब कोरोना सिंटम्‍स के जांच एवं इलाज के लिए लोगों को ओपीडी एवं अस्पतालों में नहीं जाना पड़ेगा, बल्कि उनके मोहल्ले में ही डॉक्टर जाकर उनका जांच कर इलाज सुनिश्चित करेंगे। वाराणसी जिला प्रशासन द्वारा गुरुवार को शुरू किए गए इस नई व्यवस्था के 15 मोबाइल वार्ड क्लीनिक वाहनों को कमिश्नर दीपक अग्रवाल एवं जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने कमिशनरी स्थित अपने कार्यालय परिसर से संयुक्त रूप से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

वाराणसी के शिवदासपुर इलाके में खड़ी ट्रक में रखे 80 हजार रुपये चोरों ने उड़ाए, एफआइआर दर्ज

मंडुआडीह थाना क्षेत्र के शिवदासपुर स्थित एक बाइक एजेंसी के सामने मटर लदी ट्रक के ड्राइवर पप्पू पाल निवासी ग्राम करमपुर, औड़िहार सैदपुर का चोरों ने लगभग 80 हजार रुपये उड़ा लिए। ड्राइवर पप्पू पाल ने बताया की वह अपने खलासी अंशु निवासी ग्राम सिरौना औड़िहार के साथ गोरखपुर से मटर लाद कर वाराणसी के शिवदासपुर स्थित शिव शक्ति ट्रेडर्स में आया था बीती देर रात एक बजे वह शिवदासपुर में एक बाइक एजेंसी के सामने ट्रक खड़ी कर वह और खलासी आराम कर रहे थे तभी किसी नशीली दवा के प्रभाव से उन्हें नींद आ गयी। ड्राइवर पप्पू पाल के अनुसार भोर में 3 बजे नींद खुलने पर उसने देखा की उसके पैंट में रखे लगभग 80 हजार रुपये गायब है उसने इसकी सूचना 112 नंबर पर दी मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मियों ने पप्पू को थाने भेज दिया लेकिन पप्पू के अनुसार फिर उसे लहरतारा चौकी जाने को कहा गया। जांच के बाद उसका मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

वाराणसी में टैक्स माफ करने को लेकर परिवहन कार्यालय में किया प्रदर्शन, आरटीओ को सौंपा मांग पत्र

कोरोना संक्रमण के चलते आर्थिक संकट से जूझ रहे टूरिस्ट वाहन मालिकों ने गुरुवार को परिवहन कार्यालय में प्रदर्शन किया। वे टूरिस्ट वाहनों के एक साल तक सभी टैक्स माफ करने की मांग को लेकर अड़े रहे। बनारस टूरिस्ट ट्रांसपोर्टर एसोसिशन का प्रतिनिधिमंडल कई बार संभागीय परिवहन अधिकारी से मिलकर अपना मांग पत्र सौंप चुका है। उनकी मांगों पर विचार नहीं होने पर नाराज एसोसिएशन के बैनर तले वाहन मालिक परिवहन कार्यालय पहुंचे और आरटीओ को मांग पत्र सौंपा। वहीं आरटीओ ने मांग पत्र को शासन को भेजने की बात कही।

वाराणसी में ट्रायल पिट से आरोपों की जांच, 10 इंच की पाइप में 12 इंच की पाइप कैसे चली जाएगी

आए दिन ऐसा मामला सामने आता है कि बिजली विभाग की लाइन को कभी जलकल विभाग तो कभी अन्य संस्थाओं द्वारा काट दिया गया। इस कारण अक्सर ही संबंधित क्षेत्र की आपूर्ति बाधित हो जाती है। हालांकि, बिजली विभाग आरोप-प्रत्यारोप के चक्कर में न पड़कर आपूर्ति बहाली के लिए फाल्ट दूर करने में जुट जाता है। यह पहली बार हुआ है कि बिजली विभाग पर ही पाइप ध्वस्त करने का आरोप लगा है। जलकल विभाग द्वारा लगाए गए आरोप पर आइपीडीएस के दूसरे चरण का कार्य करा रही टाटा कंपनी ने कहा है कि यह सोचने वाली बात है कि 10 इंच की पाइप में आखिरकार 12 इंच की पाइप कैसे चली जाएगी।

कलाई सजाएंगी और पर्यावरण भी बचाएंगी आर्गेनिक राखी, बहन का दिया तोहफा याद रहेगा भाइयों को

भाई की कलाई को अपने स्नेह के धागों से सजाने के लिए हर वर्ष बहनें सुंदर राखियां दुकानों पर तलाशती नजर आती हैं। इस बार कोरोना का संकट है मगर राखी की खरीदारी केा लेकर बाजार में तरह तरह के आप्शन नजर आने लगे हैं। वही इस बार एक ऐसी राखी बाजार में आई है जो पहले कलाई सजाएगी और फिर पर्यावरण को संभालेगी। इसे आर्गेनिक राखी कहा जाता है। इसके साथ ही राखी की परंपरागत डिजाइनों ने आज भी अपना जादू कायम रखा है। कोरोना के कारण दुकानदार होम डिलीवरी भी कर रहे हैं और आर्डर वास्टएप पर ले रहे हैं।  आर्गेनिक राखियों के प्रति लोगों का रुझान तेजी से बढ़ रहा है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस