आजमगढ़, जागरण संवाददाता। अगर आप किसान सम्‍मान निधि का लाभ प्राप्‍त कर रहे हैं तो आप अब इस माह के बाद योजना का लाभ पाने से वंचित भी हो सकते हैं। इसके लिए अब 31 जुाई तक ई केवाइसी अनिवार्य कर दिया गया है। किसान सम्मान निधि का लाभ लेने 2,39,183 किसान वंचित हो सकते हैं। पंजीकृत 7,37,864 के सापेक्ष 4,98,681 किसानों का केवाइसी पूरा हो चुका है। जबकि दो लाख से अधिक किसानों को लाभ आगे नहीं मिल सकेगा। इसके लिए वहीं पीएम किसान पोर्टल पर सुविधा के लिए व्‍यवस्‍था दी गई है।

जिले में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ पाने वाले जिले के 2,39,183 किसानों ने अपनी ई-केवाइसी अभी तक पूरी नहीं कराई है। जबकि, योजना का लाभ लेने के लिए यह प्रक्रिया अनिवार्य है। 31 जुलाई के पूर्व यदि ई- केवाइसी नहीं कराई तो कई 12 वीं तो काफी संख्या में किसान आगामी किस्त के लाभ से वंचित हो सकते हैं। जिले में योजना के अंतर्गत कुल 7,37,864 किसान पंजीकृत किए गए हैं, जिसके सापेक्ष सभी आठ तहसीलों में 4,98,681 किसानों का ई- केवाइसी पूर्ण है। 2,39,183 किसानाें का ई-केवाइसी कराना अभी शेष है।

पीएम किसान पोर्टल पर यह है व्यवस्था : भारत सरकार की जारी व्यवस्था के अनुसार योजना अंतर्गत पात्र सभी लाभार्थियों को पीएम किसान पोर्टल पर ई-केवाइसी 31 जुलाई के पूर्व कराना अनिवार्य है।www.pmkisan.gov.in पर स्वयं के मोबाइल, कंप्यूटर से ई- केवाइसी का विकल्प चुनकर पर ओटीपी आधारित सत्यापन प्रक्रिया पूर्ण कर सकते हैं। निकटतम जनसेवा केंद्र के माध्यम से भी बायोमीट्रिक सत्यापन से भी शेष ई-केवाइसी का कार्य पूर्ण करा सकते हैं।

आंकड़ों में जानें पूरा विवरण

तहसील किसान पूर्ण ई-केवाइसी शेष ई-केवाइसी
सदर 1,39,057 90911 28146
बूढ़नपुर 83,104 58427 24677
लालगंज 89121 60735 28386
मार्टीनगंज 54396 36840 17556
मेंहनगर 87419 60802 26617
निजामाबाद 79835 52435 27402
फूलपुर 69837 47521 22316
सगड़ी 135095 91012 44083

बोले अधिकारी : ‘योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी किसानों को ई-केवाइसी कराना अनिवार्य है। एक बार पुन: 31 जुलाई तक ई-केवाइसी न कराने से योजना के लाभ से वंचित हो सकते हैं। -मुकेश कुमार, उप कृषि निदेशक।

Edited By: Abhishek Sharma